Thursday, 20 August 2015

अर्थव्यवस्था ने रफ्तार पकड़ी है, ग्रामीण क्षेत्रों में मांग बढ़ सकती है: राजन

मुंबई, आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने आज कहा कि अर्थव्यवस्था ने रफ्तार पकड़ी है और उम्मीद जताई कि यदि मानसून में सुधार होता है तो ग्रामीण क्षेत्रों में मांग बढ़ेगी। राजन ने यहां दूसरे एसबीआई बैंकिंग एंड इकनामिक कान्क्लेव में कहा ‘‘हमारा मानना है कि अर्थव्यवस्था ने रफ्तार पकड़ी है।’’ मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस द्वारा भारत की वृद्धि का अनुमान घटाने के दो बाद आज राजन ने अपनी टिप्पणी में कहा कि बुवाई अच्छी है और उम्मीद है कि बारिश कम नहीं होगी।
उन्होंने कहा ‘‘उम्मीद है कि बुवाई बहुत अच्छी हुई है और यदि बारिश कम नहीं होती और दरअसल बढ़ ही जाती है तो ग्रामीण क्षेत्रों में मांग और तेजी से लौट सकती है।’’ राजन ने कहा कि यह आज जहां हैं उसके मुकाबले यह अर्थव्यवस्था की बहुत बड़ा बोनस होगा। मूडीज ने बारिश कम होने की आशंका और सुधार प्रक्रिया में गति न होने से 2015 के लिए वृद्धि का अनुमान घटा सात प्रतिशत कर दिया जो इससे पहले 7.5 प्रतिशत थी। सरकार ने चालू वित्त वर्ष में वृद्धि 7.8 प्रतिशत से अधिक रहने और धीरे-धीरे इसे बढ़ाकर दहाई अंक के करीब लाने का लक्ष्य रखा है। आरबीआई ने भी जून की मौद्रिक नीति की समीक्षा में वृद्धि का अनुमान घटाकर 7.6 प्रतिशत कर दिया और अगस्त महीने की मौद्रिक समीक्षा में इसे बरकरार रखा। मूडीज के बयान के बाद वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा था कि सरकार सुधार प्रक्रिया आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है।

No comments:

Post a Comment