Thursday, 6 August 2015

ललित मोदी पर सुषमा का सोनिया से सवाल, मेरी जगह होतीं तो क्या करतीं

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने गुरुवार को लोकसभा में ललित मोदी मुद्दे पर अपना बयान दिया। सुषमा स्वराज ने लोकसभा में बोलते हुए सदन से इस मुद्दे पर चर्चा कराने का अनुरोध किया। सुषमा ने कहा कि ललित मोदी को यात्रा दस्तावेज देने का मैंने ब्रिटिश सरकार से कभी अनुरोध या सिफारिश नहीं की। यह आरोप असत्य, गलत और निराधार है।
सुषमा ने कहा कि मुझ पर सवाल उठाने वालों को मैं चुनौती देती हूं कि वे एक भी दस्तावेज, एक भी पत्र या एक भी ईमेल मुझे दिखा दें, जिसमें मैंने ब्रिटिश सरकार से ललित मोदी के मामले में सिफारिश की हो। उन्होंने कहा कि यदि एक कैंसर से पीड़ित महिला की मदद करना अपराध है, तो मैं देश के समक्ष अपना गुनाह कुबूल करती हूं और इसके लिए सदन मुझे जो सजा देना चाहे, मैं भुगतने के लिए तैयार हूं।
सुषमा ने कहा कि यदि सोनिया गांधी मेरी जगह होतीं, तो क्या वे ऐसी कैंसर पीड़ित महिला को मरने के लिए छोड़ देतीं। यह बड़ा मानवीय संवेदना का मामला है। यह ललित मोदी की मदद करने का मामला नहीं है। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मेरे करीबी विपक्षी दोस्त मेरे खिलाफ आरोप लगा रहे हैं। इस समय मेरे ग्रह खराब चल रहे हैं। मुझे विश्वास है कि ग्रहों की दशा जल्द ठीक होगी।

No comments:

Post a Comment