Tuesday, 25 August 2015

शाहरुख ने तनुजा के साथ ली सेल्फी, कहा- पिता की पसंदीदा हीरोइन

मुंबई, फिल्म अभिनेता शाहरुख खान ने आइसलैंड में ‘दिलवाले’ की शूटिंग के दौरान कल अभिनेत्री तनुजा के साथ सेल्फी ली। अपनी आने वाली फिल्म में तनुजा की बड़ी बेटी काजोल के साथ अभिनय कर रहे ‘हैप्पी न्यू ईयर’ के 49 वर्षीय अभिनेता ने कहा कि ‘ज्वेल थीफ’ की अभिनेत्री उनके पिता की पसंदीदा हीरोइन थी। उन्होंने ट्वीट किया है कि मेरे पिता की पसंदीदा अभिनेत्री तनुजाजी, तनु आंटी के साथ। शाहरुख खान ने आइसलैंड में अपने पहले दिन का अनुभव भी साझा किया है। अंतिम बार 2010 में आयी फिल्म ‘माइ नेम इज खान’ में नजर आने के बाद शाहरुख खान और काजोल एक बार फिर इस फिल्म में दिखाई देंगे। वे एक गीत की शूटिंग के लिए आइसलैंड गये हैं।

कोहली रैंकिंग में शीर्ष दस से बाहर, अश्विन आठवें स्थान पर

दुबई, भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली आईसीसी टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में शीर्ष दस से बाहर हो गए हैं लेकिन श्रीलंका के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट में बेहतरीन गेंदबाजी करने वाले आर अश्विन गेंदबाजी रैंकिंग में आठवें और हरफनमौलाओं की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। श्रीलंका के कुमार संगकारा रैंकिंग में सातवें स्थान से क्रिकेट से विदा हुए। वहीं ऑस्ट्रेलिया के माइकल क्लार्क अपने आखिरी टेस्ट के बाद रैंकिंग में 25वें स्थान पर रहे। संगकारा दिसंबर 2007 में टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में पहले नंबर पर पहुंचे थे। वह 97 टेस्ट और 812 दिन तक नंबर वन टेस्ट बल्लेबाज रहे। आखिरी बार वह दिसंबर 2014 में शीर्ष पर पहुंचे थे और बाद में एबी डिविलियर्स ने उनकी जगह ली।
क्लार्क अगस्त 2009 में रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे थे और आखिरी बार फरवरी 2013 में चोटी पर रहे। वह कुल 11 टेस्ट और 70 दिन तक टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग के सरताज रहे। भारत के अजिंक्य रहाणे दो पायदान चढकर 20वें स्थान पर पहुंच गए जबकि श्रीलंका के दिमुथ करुणारत्ने भी दो पायदान चढकर 34वें स्थान पर पहुंचे। इंग्लैंड के मोईन अली दो पायदान चढकर 48वें स्थान पर पहुंचे। लोकेश राहुल 30 पायदान की छलांग लगाकर 87वें स्थान पर पहुंचे जबकि विकेटकीपर रिधिमान साहा 15 पायदान चढकर 100वें स्थान पर पहुंच गए।

आनंद की एक और हार

सेंट लुई, पांच बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद को सिंक्वेफील्ड कप शतरंज के लगातार दूसरे दौर में पराजय का सामना करना पड़ा और इस बार उन्हें रूस के अलेक्जेंदर ग्रिसचुक ने मात दी । पहले दौर में आनंद को अमेरिका के हिकारू नकामूरा ने हराया था । दूसरे दौर में ग्रिसचुक ने क्लासिकल शतरंज में उनके खिलाफ पहली जीत दर्ज की ।
अन्य मुकाबलों में नार्वे के मैग्नस कार्लसन ने अमेरिका के फेबियानो कारूआना के खिलाफ पूरे अंक हासिल किये जबकि बुल्गारिया के वेसलीन टोपालोव ने नकामूरा को मात दी । दस खिलाड़ियों के राउंड राबिन मुकाबले में नीदरलैंड के अनीश गिरी ने अमेरिका के वेसले सो से ड्रा खेला जबकि मैक्सिम वाचियेर लाग्रेव ने आर्मेनिया के लेवोन आरोनियन को ड्रा पर रोका ।
टूर्नामेंट के सात दौर अभी बाकी है और टोपालोव दो अंक लेकर शीर्ष पर हैं । आरोनियन, लाग्रेव और गिरी उनसे आधा अंक पीछे हैं । कार्लसन, नकामूरा और ग्रिसचुक पांचवें स्थान पर है जबकि कारूआना और आनंद तालिका में सबसे नीचे हैं । आनंद के लिये एक और खराब दिन रहा जो लय हासिल नहीं कर सके । ग्रिसचुक ने सिर्फ 35 चालों में बाजी जीत ली ।

राष्ट्रीय फुटबॉल टीम की ट्रेनिंग में पहली बार जीपीएस ट्रैकर का इस्तेमाल

पुणे, भारतीय फुटबॉल टीम ने ईरान के खिलाफ 2018 विश्व कप क्वालीफाइंग मुकाबले से पूर्व शिविर के दौरा पहली बार ‘प्लेयर ट्रैकिंग सिस्टम’ का इस्तेमाल किया। टीम यहां डीएसके ड्रीम सिटी में ट्रेनिंग कर रही है। खिलाड़ियों ने अपनी बनियान के अंदर जीपीएस प्रणाली पहन रखी थी और यह काफी हद तक लियोनल मेस्सी और ज्लाटन इब्रामोविच की तस्वीरों की तरह लग रहा था जो कुछ हफ्ते पहले वाइरल हो गई थी।
जीपीएस का इस्तेमाल पहली बार राष्ट्रीय कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन के मार्गदर्शन में किया गया और इस दौरान खेल वैज्ञानिक डैनी डीगन ने पूरी प्रकिया की निगरानी की। डीगन ने कहा, ‘‘अब से हम सभी ट्रेनिंग सत्र के दौरान इसका इस्तेमाल करेंगे, यहां तक कि मैचों के दौरान भी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘फीफा ने दो महीने पहले मैच के दौरान इसके इस्तेमाल की स्वीकृति दी थी। इसके लिए सिर्फ मैच से एक दिन पूर्व मैच आयुक्त से स्वीकृति लेने की जरूरत पड़ेगी।’’

मांझी का विधानसभा से इस्तीफा, हम सेक्युलर के अध्यक्ष बने

पटना, पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के आज बिहार विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दिये जाने के बाद वे सर्वसम्मति से हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सेक्युलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत कर लिए गए। हम सेक्युलर के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने बताया कि आज यहां आयोजित हम सेक्युलर की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह द्वारा मांझी को हम सेक्युलर का राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत किए जाने संबंधी प्रस्ताव लाए जाने पर उन्हें सर्वसम्मति से उक्त पद के लिए मनोनीत कर लिया गया।
मांझी ने अपने धन्यवाद ज्ञापन में अपने पार्टी सहयोगियों और कार्यकर्ताओं से राजग को सत्ता में लाने के लिए कड़ी मेहनत करने की अपील करते हुए कहा कि बिहार में नेतृत्व परिवर्तन की लहर चल रही है। उन्होंने कुछ राजनीतिक दलों पर प्रदेश में जातिवाद की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि आगामी बिहार विधानसभा चुनाव में वे वर्तमान सरकार को सत्ता से बेदखल करने और सभी समुदायों को एक साथ लाने के लिए हम सेक्युलर को नेतृत्व प्रदान करेंगे।
राजग के घटक दलों लोजपा और रालोसपा के सीटों का बंटवारा शीघ्र किए जाने की सार्वजनिक तौर पर की गयी मांग पर मांझी ने इस मुद्दे को राजग के उचित फोरम पर उठाए जाने की अपील की। इससे पूर्व मांझी ने विधानसभा पहुंचकर वहां के कार्यकारी सचिव हरेराम मुखिया को अपना इस्तीफा सौंपा। हरेराम ने मांझी द्वारा पत्र सौंपे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि इस बारे में बिहार विधानसभा द्वारा अधिसूचना जारी की जाएगी।
छह बार विधायक रहे 70 वर्षीय मांझी वर्तमान में जहानाबाद जिला के मखदूमपुर विधानसभा क्षेत्र से जदयू के सदस्य के रूप में प्रतिनिधित्व कर रहे थे। पिछले लोकसभा चुनाव में जदयू की करारी हार की जिम्मेवारी लेते हुए तत्कालीन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देते हुए मांझी को अपना उत्तराधिकारी चुना था। जदयू विधायक दल के मांझी के स्थान पर फिर से नीतीश को अपना नेता चुन लिए जाने के बाद नौ महीने मुख्यमंत्री पद पर आसीन रहे मांझी के मुख्यमंत्री पद नहीं छोड़ने पर जदयू ने उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया था जिसके बाद बिहार विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने उन्हें असंबद्ध सदस्य घोषित कर दिया था।
सदन में बहुमत जुटाने के पूर्व मांझी ने गत 20 फरवरी को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद नीतीश फिर से मुख्यमंत्री पद पर आसीन हुए। बाद में मांझी ने जदयू के अन्य बागी विधायकों और नेताओं के साथ मिलकर हम सेक्युलर का गठन किया था तथा बाद में भाजपा नीत राजग में शामिल हो गए।

कानपुर में महिला की दिन दहाड़े गर्दन काट कर बेरहमी से हत्या

कानपुर> उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर के बाबूपुरवा इलाके में आज घर में एक अकेली महिला की गला रेत कर बेरहमी से हत्या कर दी गयी। घर वाले इसके पीछे लूट की बात बता रहे हैं लेकिन पुलिस कई बिन्दुओं पर काम कर रही है। घटनास्थल की जांच के लिये खोजी कुत्ते और फोरेंसिक विभाग की टीम भेजी गयी है। कानपुर पुलिस के एसएसपी शलभ माथुर ने बताया कि बाबूपुरवा के बेगमपुरवा में सलीम रहते हैं जो रेलवे में फोरमैन के पद पर कार्यरत हैं। आज सुबह सलीम अपनी डयूटी पर और बेटी अपने स्कूल चले गयी। घर में अकेली पत्नी आमना खातून रह गयी।
कुछ अज्ञात बदमाशों ने करीब 10 बजे उनके घर में घुसकर उनका बेरहमी से गला काट दिया। गला इतने तेज धार दार हथियार से काटा था कि वह शरीर से अलग हो गया था और खून कमरे में भरा हुआ था। कमरे में अलमारियां खुली थीं और सामान बिखरा हुआ था। महिला के पति का आरोप है कि घर से 12 लाख रूपये नगद और 10 लाख की ज्वैलरी गायब है। पुलिस मामले के हर पहलू की जांच कर रही है और महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया गया है।

कमजोर वैश्विक संकेतों से सोना वायदा भाव में 186 रुपये की गिरावट

नयी दिल्ली, कमजोर वैश्विक रुख के बीच सटोरियों ने अपने सौदों की कटान की जिससे वायदा कारोबार में आज सोने के भाव 186 रुपये की गिरावट के साथ 27,262 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गये। एमसीएक्स में सोने के अक्तूबर डिलीवरी वाले अनुबंध के भाव 186 रुपये अथवा 0.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ 27,262 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गये जिसमें 277 लॉट के लिए कारोबार हुआ। इसी प्रकार सोने के दिसंबर महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध के भाव 187 रुपये अथवा 0.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ 27,667 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गये जिसमें मात्र एक लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि सोना वायदा भाव में गिरावट विदेशों में कमजोरी के रुख और मौजूदा स्तर पर सटोरियों की मुनाफावसूली के अनुरूप था। इस बीच न्यूयार्क में कल के कारोबार में सोने की कीमत 0.47 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,154.90 डॉलर प्रति औंस रह गई।

भारत जल्दी ही चीन को पीछे छोड़ने की स्थिति में: स्वामी

वाशिंगटन, भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमणियम स्वामी ने कहा है कि राजग सरकार के लिये सही कदम उठाकर मौजूदा चीन के आर्थिक संकट को अवसर में बदलने का एक मौका है। उन्होंने यह भी कहा कि मौजूदा वित्तीय संकट का चीन के वैश्विक ‘सुपरपावर’ बनने तथा अमेरिकी डालर के एकाधिकार को चुनौती देते हुए यूआन को व्यवहारिक अंतरराष्ट्रीय मुद्रा बनाने के लक्ष्य पर जबर्दस्त प्रभाव पड़ेगा। स्वामी ने कहा, ‘‘यह (चीनी आर्थिक संकट) भारत के लिये एक अवसर है।’’
पूर्व कैबिनेट मंत्री ने पूर्व में भविष्यवाणी की थी कि 2020 तक चीनी अर्थव्यवस्था धाराशायी हो जाएगी। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि यह पांच साल पहले हो रहा है।’’ वह फिलहाल विभिन्न शहरों में व्याख्यान के लिये अमेरिका की यात्रा पर हैं। स्वामी ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि चीन में जो हो रहा है, यह संरचनात्मक विफलता है। चीन की पूरी आर्थिक प्रणाली कोई स्वदेशी प्रणाली नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम अगर सही कदम उठाते हैं, तो चीन को पीछे छोड़ने को लेकर हम मजबूत स्थिति में हैं।’’
भाजपा नेता ने रेखांकित किया कि चीन को आर्थिक संकट से उबरने में समय लगेगा, ऐसे में भारत के लिये जरूरी कदम उठाकर अपने पड़ोसी देश से आगे निकलने का समय है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपने आर्थिक सलाहकारों को हटाने का अनुरोध करते हुए स्वामी ने कहा कि उनके लिये जरूरी है कि वे पार्टी के भीतर गहन विचार विमर्श वाला सत्र आयोजित करे जिसमें उन्हें सही सलाह मिलेगी। उन्होंने देश में आर्थिक विकास को गति देने के लिये अन्य बातों के अलावा सरकार से ब्याज दर कम कर 9 प्रतिशत पर लाने तथा आयकर समाप्त करने का आह्वान किया।

बाबा रामदेव सीमा सुरक्षा बल के जवानों को सिखाएंगे योग

जैसलमेर> सीमाओं पर तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवानों के तनाव को कम करने के साथ उन्हें चुस्त दुरुस्त रखने के लिए योग गुरु बाबा रामदेव आगामी 11 से 13 सितंबर तक जैसलमेर से लगती भारत पाक सीमा क्षेत्र में तैनात बल के जवानों और अधिकारियों के बीच रहकर उन्हें न केवल योग, प्राणायाम सिखाएंगे वरन उन्हें लगातार योग के लिए प्रेरित भी करेंगे।
बीएसएफ के जवानों में बढ़ रहे तनाव व दिल के दौरे पड़ने की घटनाओं को देखते हुए सीमा सुरक्षा बल में योग प्राणायाम व खेल गतिविधियों को अनिवार्य कर दिया गया हैं। पंतजलि योगपीठ हरिद्वार के मुख्य केन्द्र प्रभारी डॉ. जयदीप आर्य ने पत्रकारों को बताया कि 11 सितम्बर को योग गुरु बाबा रामदेव जैसलमेर पहुंचेंगे तथा तीन दिन जैसलमेर में ही रहकर सीमा सुरक्षा बल परिसर में प्रात: 5.30 बजे से 7.30 बजे तक योग शिविर का आयोजन कर बल के जवानों को विपरीत परिस्थितियों में सीमा पर तैनात रहकर आने वाली शारीरिक व मानसिक कठिनाइयों से निजात दिलवाने का प्रयत्न करेंगे।
उन्होंने कहा कि बाबा रामदेव पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर और जैसलमेर जिलों में छह दिन रहकर जवानों को योग प्राणायाम सिखाएंगे। उन्होंने बताया कि सीमा सुरक्षा बल परिसर में आयोजित इन योग शिविरों में स्थानीय लोगों को प्रवेश के लिए पंतजलि के चिकित्सा केन्द्र व आयुर्वेदिक केन्द्रों से उनको प्रवेश पत्र दिये जायेंगे। डॉ. आर्य ने बताया कि बाबा रामदेव जैसलमेर से लगती अन्तरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित तनोट माता के दर्शन करने भी जायेंगे। रामदेव इस दौरान जहां सीमावर्ती क्षेत्रों में तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवानों व अधिकारियों से मुलाकात करेंगे।

मामले को हवा देने की रणनीति में नवाज, कहा- कश्मीरी नेता नहीं ‘तीसरा पक्ष’

इस्लामाबाद, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा है कि कश्मीरी अलगाववादी नेता ‘‘तीसरा पक्ष’’ नहीं हैं और भारत के साथ ऐसी कोई भी बातचीत प्रक्रिया निर्थक होगी जिसमें कश्मीर मुद्दा शामिल नहीं हो। शरीफ ने कल कैबिनेट की बैठक में कहा, ‘‘ कश्मीरी नेता तीसरा पक्ष नहीं हैं बल्कि इस मसले का एक महत्वपूर्ण पक्ष हैं। उनके भविष्य के बारे में कोई फैसला उनकी राय और विचार विमर्श के बिना नहीं हो सकता।’’ दि डॉन की एक खबर के अनुसार शरीफ ने कैबिनेट से कहा कि बिना कश्मीर मुद्दे के भारत के साथ कोई भी बातचीत निर्थक होगी।
शरीफ की इस टिप्पणी के कुछ दिन पहले ही पाकिस्तान ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार स्तरीय वार्ता आखिरी वक्त में रद्द कर दी थी। भारत ने पाकिस्तान से यह प्रतिबद्धता जताने को कहा था कि वह कश्मीरी अलगाववादी नेताओं से मुलाकात नहीं करेगा। पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सरताज अजीज ने शरीफ और कैबिनेट को वार्ता रद्द होने के संबंध में जानकारी दी। कैबिनेट ने देश की सुरक्षा स्थिति पर भी विचार विमर्श किया।

राम नाईक ने लोकायुक्त की नियुक्ति की फाइल फिर लौटाई

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में नये लोकायुक्त की नियुक्ति को लेकर राज्य सरकार और राज्यपाल राम नाईक के बीच जारी गतिरोध बरकरार है। राजभवन ने सेवानिवृत्त न्यायाधीश रवीन्द्र सिंह यादव की नये लोकायुक्त के तौर पर नियुक्ति की सिफारिश सम्बन्धी फाइल आज पांचवीं बार भी लौटा दी। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि लोकायुक्त की नियुक्ति को लेकर अखिलेश यादव सरकार द्वारा भेजे गये जवाब का दो दिन तक गहराई से परीक्षण एवं विधि विशेषज्ञों से सलाह-मशविरा करने के बाद राज्यपाल ने सम्बन्धित फाइल को सुबह फिर राज्य सरकार को लौटा दिया। हालांकि यह तत्काल पता नहीं लग सका है कि राज्यपाल ने फाइल पर उसे लौटाने का क्या कारण लिखा है।
नाईक ने पिछली बार फाइल लौटाते वक्त कहा था कि ऐसा लगता है कि इस नियुक्ति की सिफारिश के लिये मुख्यमंत्री, उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश तथा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष की समिति की बैठक में सहमति लेने की औपचारिकता नहीं पूरी की गयी है। राज्यपाल ने यह भी कहा था कि मुझे लोकायुक्त संबंधी फाइल एक ही नाम की सिफारिश करते हुए मिली है। राज्य सरकार इससे पहले भी लोकायुक्त के तौर पर रवीन्द्र सिंह यादव की नियुक्ति सम्बन्धी फाइल चार बार राज्यपाल के पास भेज चुकी है, जिसे नाईक ने हर बार लौटा दिया था।

मिले-जुले वैश्विक रुझान के बीच बाजार भारी उतार-चढ़ाव की गिरफ्त में

मुंबई, सेंसेक्स, कल की रिकार्ड गिरावट के बाद आज सुबह मजबूती के साथ खुला और कुछ की मिनटों में इसमें 383 अंक की उछाल दर्ज हुई लेकिन जल्दी ही बाजार सुबह के कारोबार में भारी उतार-चढ़ाव की गिरफ्त में आ गया। सूचकांक भारी उतार-चढ़ाव के बीच नकारात्मक दायरे में आ गया लेकिन बाद में नौ बजकर 45 मिनट पर फिर से 120 अंक की तेजी के साथ 25,862 पर पहुंच गया। इसी तरह नैशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 38.60 अंक की उछाल के साथ 7,847.60 पर पहुंच गया हालांकि इससे पहले शुरआती कारोबार में यह 7,801 के न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया।
चीन के बाजार में गिरावट जारी रहने के बावजूद भारतीय बाजारों में निचले स्तर पर लिवाली बढ़ने से सेंसेक्स में 383 अंक की उछाल दर्ज हुई और निफ्टी से फिर से 7,900 का स्तर छुआ। कारोबारियों ने कहा कि अन्य एशियाई बाजारों में सुधार से यहां बाजारों का रझान प्रभावित हुआ।

सहमति पत्रों पर कैबिनेट की मंजूरी लेने में देरी, पीएम नाराज

नयी दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंत्रालयों द्वारा आपसी सहमति ज्ञापनों (एमओयू) पर मंत्रिमंडल की मंजूरी लेने में की जा रही देरी पर नाराजगी जाहिर करते हुए आज कहा कि उन्हें एक महीने के भीतर विभिन्न देशों और प्रतिष्ठानों के साथ किये गये एमओयू का ब्योरा मंत्रिमंडल के सुपुर्द करना चाहिये। कैबिनेट सचिव प्रदीप कुमार सिन्हा ने हाल में केंद्र सरकार के सभी मंत्रालयों के सचिवों को जारी निर्देश में यह बात कही। इस साल जून में सभी मंत्रालयों के सचिवों को निर्देश दिया गया है कि वे सहमति-पत्रों पर हस्ताक्षर करने से पहले पूर्व स्वीकृति प्राप्त करें। उन्होंने कहा ‘‘अभी भी यह देखा जा रहा है कि एमओयू हस्ताक्षर होने के काफी समय निकल जाने के बाद एमओयू के बारे में केबिनेट नोट मंजूरी या जानकारी देने के लिए मंत्रिमंडल के समक्ष लाये जा रहे हैं।’’

बैंगलोर महानगर पालिका में भी बीजेपी की भारी जीत, पीएम ने ट्विट कर दी कार्यकर्ताओं को बधाई

बैंगलोर। बैंगलोर महानगर पालिका के चुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी ने बड़ी जीत हासिल की है। भाजपा ने 100 सीटों पर जीत दर्ज की है, वहीं कांग्रेस ने 76, जेडीएस ने 16 और अन्य दलों को आठ सीटें हासिल हुईं। पीएम ने ट्विट कर दी कार्यकर्ताओं को बधाई है। इस जीत के साथ ही पीएम ने ट्विट में इसे राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद जीत की हैट्रिक बताया है। पीएम ने कहा कि विकास की राजनीति की जीत है। साल 2013 में सत्ता में वापसी करने के बाद कर्नाटक में सत्ताधारी कांग्रेस और उसके मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को मंगलवार को बैंगलोर नगरपालिका चुनाव परिणामों ने बड़ा झटका दिया। शनिवार को नगरपालिका के लिए हुए मतदान में 50 फीसदी से कम वोटरों ने अपने वोट डाले थे। शहर में बढ़ती गंदगी और पानी की कमी, बदहाल सड़कों की वजह से गुस्साए मतदाता वोटिंग से दूर रहे। शायद ऐसा यह संदेश देने के लिए ही कहा गया कि अगर काम ठीक से नहीं किया गया तो उन्हें ऐसी ही नाराजगी झेलनी पड़ेगी।

पाकिस्तान की चालबाजी फिर सामने, वहां प्रतिबंधित नहीं है जमात-उद-दावा और हक्कानी नेटवर्क

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में प्रतिबंधित 60 संगठनों की आधिकारिक सूची के अनुसार मुंबई आतंकी हमले के साजिशकर्ता हाफिज सईद नीत जमात.उद.दावा :जेयूडी: और अफगानिस्तान स्थित खतरनाक हक्कानी नेटवर्क यहां प्रतिबंधित नहीं हैं। हालांकि, सरकार ने जेयूडी को उन समूहों की सूची में रखा है जिन पर अधिकारी करीबी नजर रख रहे हैं। इसका अर्थ है कि अगर संगठन को आतंकवाद को बढ़ावा देने का दोषी पाया गया तो उस पर रोक लगायी जा सकती है। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार जेयूडी एक आतंकवादी संगठन है और उसके प्रमुख हाफिज सईद पर अमेरिकी सरकार ने एक करोड़ डालर का इनाम रखा है। लेकिन वह पाकिस्तान में खुलेआम घूमता है।
अल.कायदा से जुड़ा खतरनाक संगठन हक्कानी नेटवर्क भी प्रतिबंधित संगठनों की सूची में शामिल नहीं है। हक्कानी नेटवर्क पर अफगानिस्तान में पश्चिम और भारत के हितों के खिलाफ हमले का आरोप है। इनमें काबुल में 2008 में भारतीय मिशन पर हमला भी शामिल है। सूची के अनुसार पाकिस्तान ने 60 संगठनों को आतंकवाद में शामिल होने पर प्रतिबंधित किया है। वर्णानुक्रम में व्यवस्थित सूची के अनुसार लश्कर.ए.तैयबा 39वें नंबर पर है जबकि जैश.ए.मुहम्मद 29वें स्थान पर है। अल.कायदा और तहरीक.ए.तालिबान पाकिस्तान जैसे प्रमुख आतंकवादी संगठन भी इस सूची में शामिल हैं। भारतीय संसद पर हमले के बाद 14 जनवरी 2002 को लश्कर.ए.तैयबा तथा जैश.ए.मुहम्मद पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।
सूची के अनुसार जेयूडी एकमात्र समूह है जो आधिकारिक निगरानी के तहत है। यह समूह स्कूलों और अस्पतालों का संचालन करता है तथा बाढ़ एवं अन्य प्राकृतिक आपदाओं के वक्त लोगों को मदद मुहैया कराता है। जेयूडी प्रमुख सईद भारत के साथ विवादों के समाधान के लिए पाकिस्तान सरकार की किसी भी शांति पहल का विरोध करता है।

भाजपा सांसद शत्रुघन सिन्हा ने ट्विट कर दी पार्टी को धमकी 0

नई दिल्ली। शत्रुघन सिन्हा ने बिहार विधान सभा चुनाव के बाद उन पर कार्रवाई होने की खबरों के बीच कहा कि न्यूटन का तीसरा नियम नहीं भूलना चाहिए। उन्होंने कहा कि हर क्रिया के बाद एक प्रतिक्रिया होती है। बता दें कि हाल में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तारीफ कर मेल-जोल बढ़ाने के मुद्दे पर पार्टी श्री सिन्हा से नाराज़ चल रही है। ऐसे में ट्विट के माध्यम से धमकी बिहार की राजनीति को एक नई दिशा दे सकता है।

Monday, 24 August 2015

आतंकी नावेद न्यायिक हिरासत में भेजा गया

जम्मू, ऊधमपुर आतंकी हमले में पकड़े गए संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद नावेद उर्फ कासिम खान को 26 अगस्त तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। नावेद अभी तक पुलिस रिमांड पर था। जम्मू के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सुमित गुप्ता ने उसे न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ऊधमपुर घटना की जांच कर रही है। इस आतंकी वारदात में सीमा सुरक्षा बल के दो जवान शहीद हो गए थे। एक आतंकी मारा गया था। नावेद भागकर पास के चिरडी गांव में घुस गया था, जहां गांव वालों ने उस पर काबू पाकर उसे पुलिस को सौंप दिया था।
इससे पहले एनआईए ने उधमपुर में हुए आतंकवादी हमले में पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद नावेद याकूब का बयान दर्ज करने के लिए आज उसे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया। इस आतंकवादी हमले में बीएसएफ के दो जवान शहीद हो गए थे और 15 अन्य लोग घायल हो गए थे। अदालत के सूत्रों ने बताया कि सीआरपीसी की धारा 164 :इकबालिया बयान और बयान दर्ज करने के संबंध में: के तहत नावेद का बयान दर्ज करने के लिए उसे आज तड़के उच्च न्यायालय परिसर में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट :सीजेएम: एस गुप्ता के समक्ष पेश किया गया।
उन्होंने बताया कि सीजेएम ने यह सुनिश्चित करने की प्रक्रिया के तहत लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी को दो दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया कि वह स्वेच्छा से बयान दे रहा है। उन्होंने बताया कि बयान दर्ज करने के लिए इस मामले को 26 अगस्त को लिया जाएगा। सूत्रों ने दावा किया कि नावेद ने पांच अगस्त हो हुए आतंकवादी हमले में अपनी संलिप्तता की बात कुबूलने के बाद आज अपना बयान दर्ज करने पर सहमति जताई थी। नावेद को हमले के बाद पकड़ा गया था। उसे आज एनआईए अदालत के समक्ष भी पेश किया गया। इसी अदालत ने उसे 11 अगस्त को 14 दिनों के लिए एजेंसी की हिरासत में भेज दिया था। पाकिस्तान के फैसलाबाद के रहने वाले नावेद को एनआईए की टीम पूर्व में श्रीनगर से लाई थी और उसे उधमपुर जिले में नारसु नाला पर स्थित राजमार्ग पर भी ले जाया गया था जहां आतंकवादी हमला हुआ था।

अमोल पालेकर भारत की ऑस्कर जूरी के अध्यक्ष नियुक्त 0

मुंबई, जाने माने अभिनेता अमोल पालेकर को भारत की ऑस्कर जूरी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है जो 88 वें अकादमी अवार्ड की सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्मों की सूची के लिए देश की अधिकारिक प्रविष्टि का चयन करेगी। ‘गोलमाल’ स्टार 70 वर्षीय अभिनेता 17 सदस्यीय जूरी की अगुवाई करेंगे। उनकी फिल्म ‘पहेली’ को 2005 में अकादमी पुरस्कार के लिए अधिकारिक प्रविष्टि मिली थी।
मुंबई स्थित फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया :एफएफआई: के महासचिव सुप्रण सेन ने ‘पीटीआई भाषा’ को बताया, ‘‘भारत के ऑस्कर जूरी के प्रमुख के रूप में हमने अमोल पालेकर का चयन किया है। वह एक जानी मानी फिल्म शख्सियत हैं।’’ उत्साहित पालेकर ने बताया कि 2016 में ऑस्कर के लिए भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली फिल्म के चयन की प्रक्रिया अभी शुरू होनी है ।
उन्होंने बताया, ‘‘भारत के ऑस्कर जूरी का अध्यक्ष नियुक्त किये जाने को लेकर मैं खुश हूं। ऑस्कर के लिए एक फिल्म के चयन के लिए हमने कोई मानदंड तय नहीं किया है। मैं सबसे पहले सम्मानीय सदस्यों के साथ बैठक करूंगा और चयन के मानदंड पर काम करूंगा।’’ बड़े पर्दे से कुछ समय से दूर चल रहे मुंबई में रहने वाले अभिनेता को 1970 की दशक में आयी ‘रजनीगंधा’, ‘एक छोटी सी बात’, ‘चितचोर’, ‘गोलमाल’ और ‘घरौंदा’ जैसी फिल्मों में मध्यवर्ग का चरित्र चित्रण करने के लिए जाना जाता है। 88 वें अकादमी पुरस्कार का आयोजन लॉस एंजिलिस में 28 फरवरी को किया जाएगा।

लोजपा-रालोसपा ने बढ़ाई BJP की मुश्किलें, कहा- एक हफ्ते में हो सीटों का बंटवारा

पटना: सितंबर-अक्टूबर में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव से पहले सीट शेयरिंग को लेकर एनडीए में घमासान तेज हो गया है. एनडीए के प्रमुख घटक दल रालोसपा और लोजपा ने भाजपा के शीर्ष नेताओं से सीटों के बंटवारे पर एक सप्ताह के भीतर फैसला करने की मांग की है. साथ दोनों दलों के नेताओं ने कहा कि भाजपा को ऐसे बयान से बचना चाहिए जिससे हमारे कार्यकर्ताओं को दुख पहुंचता हो. गौर हो कि बीते दिनों महागंठबंधन की ओर से सीटों के बंटवारें का एलान कर दिये जाने के बाद से एनडीए के घटक दल भाजपा पर लगातार दबाव बनाये हुए है. इसी कड़ी में हाल ही में लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष एवं पार्टी सांसद चिराग पासवान ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से दिल्ली में मुलाकात कर सीट शेयरिंग पर जल्द फैसला करने का आग्रह किया था.
दोनों दलों ने सोमवार को संयुक्त प्रेस वार्ता कर एनडीए के मतभेद को सार्वजनिक कर दिया. दोनों पार्टियों ने भाजपा नेताओं को एक सप्ताह में सीट निर्धारण करने का समय दिया है. दोनों पार्टियों की संयुक्त प्रेस वार्ता में भाजपा के स्लोगन पर भी नाराजगी जताई गयी. पार्टी नेताओं ने कहा कि भाजपा के नेता अबकी बार भाजपा सरकार का स्लोगन चला रहे हैं, जबकि सरकार एनडीए की बनने वाली है. हालांकि सभी पार्टियों ने भाजपा उम्मीदवार को मुख्यमंत्री की कुर्सी देने पर सहमति जता दी है, फिर भी यह स्लोगन ठीक नहीं है.
लोजपा नेता पशुपति पारस ने कहा कि भाजपा गठबंधन में बड़े भाई की भूमिका में है. भाजपा को एक सप्ताह के अंदर सभी सीटों का बंटवारा कर देना चाहिये. सीट बंटवारे में देर करना ठीक नहीं है. पारस ने भाजपा पर आरोप लगाया कि विधान परिषद के चुनाव में लोजपा के हाजीपुर के प्रत्याशी को भाजपा के नेताओं ने हराने का काम किया था. रालोसपा नेता अरु ण कुमार ने कहा कि भाजपा के कई नेता बेहद आक्रामक बयान दे रहे हैं. वे लोग हमारे खिलाफ भी बोलते हैं, ऐसा नहीं होना चाहिये. प्रेसवार्ता में लोजपा सांसद रामचंद्र पासवान, रालोसपा के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष ललन पासवान, ललन चंद्रवंशी, प्रो. मोहम्मद सरफराज खान मौजूद रहें.

‘पाकिस्तान में दाऊद को उड़ाने की थी तैयारी, भ्रष्ट पुलिस ने बिगाड़ा खेल’

नई दिल्ली: भारत ने भगोड़े और मोस्टर वॉन्टेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को पाकिस्तान में ही ठिकाने लगाने की योजना बनाई थी, लेकिन मुंबई पुलिस के कुछ अफसरों की वजह से पूरा ऑपरेशन चौपट हो गया। पूर्व होम सेक्रेटरी और बीजेपी लीडर आरके सिंह ने यह खुलासा किया है।
छोटा राजन गिरोह के लोगों को दी गई ट्रेनिंग:
सिंह एक अंग्रेजी चैनल से बातचीत में सिंह ने यह जानकारी दी। आरके सिंह ने बताया कि किस तरह मुंबई पुलिस के कुछ भ्रष्ट अफसरों की वजह से यह सीक्रेट ऑपरेशन फेल हो गया। सिंह के मुताबिक, उस वक्त वाजपेयी पीएम थे। भारत सरकार ने छोटा राजन गिरोह के कुछ लोगों को इस मिशन से जोड़ा और उन्हें सीक्रेट लोकेशंस पर ट्रेनिंग देनी शुरू की। हालांकि, दाऊद से जुड़े मुंबई पुलिस के कुछ अफसर ट्रेनिंग कैंप पर इन लोगों को अरेस्ट करने पहुंच गए। सिंह ने कहा, ”दाऊद को निशाना बनाने के लिए एक ग्रुप को ट्रेनिंग दी गई। हालांकि, दाऊद के कुछ लोग मुंबई पुलिस में थे, जो अलर्ट हो गए। मुंबई पुलिस यह कहती पाई गई कि उसके पास ट्रेन्ड किए जा रहे लोगों के खिलाफ वॉरंट है। हालांकि, मैं इस न्यूज की पुष्टि नहीं कर सकता। मैंने यह सब सुना है, मेरे पास ठोस सबूत नहीं हैं।

अश्विन की फिरकी के दम पर भारत ने दूसरा टेस्ट जीतकर वापसी की

कोलंबो, रविचंद्रन अश्विन की बेहतरीन स्पिन गेंदबाजी के दम पर भारत ने श्रीलंका को दूसरे क्रिकेट टेस्ट में 278 रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 1 . 1 से बराबरी की और महान बल्लेबाज कुमार संगकारा को जीत के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से विदाई से भी महरूम कर दिया । जीत के लिये 413 रन के मुश्किल लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंकाई टीम पांचवें और आखिरी दिन लंच के बाद 43 . 4 ओवर में 134 रन पर आउट हो गई । अश्विन ने 42 रन देकर पांच विकेट लिये । बतौर कप्तान विराट कोहली की यह पहली टेस्ट जीत है । भारतीय टीम ने पहले दिन से ही मैच पर दबदबा बनाये रखा । गाले में पहले टेस्ट में मिली नाटकीय हार के बाद अपनी गलतियों से सबक लेते हुए भारत ने उम्दा प्रदर्शन किया । दूसरी ओर संगकारा के सुनहरे कैरियर का यह निराशाजनक अंत रहा जो अपने आखिरी टेस्ट की दोनों पारियों में नहीं चल सके ।
श्रीलंका ने आखिरी सात विकेट 58 रन के भीतर गंवा दिये । इससे पहले बारिश के कारण लंच ब्रेक समय से पहले लिया गया था । लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने दुष्मंता चामीरा : 4 : के रूप में श्रीलंका का आखिरी विकेट लिया । भारत ने लंच ब्रेक के बाद पांचवीं गेंद पर जीत दर्ज की । अश्विन के अलावा मिश्रा ने 29 रन देकर तीन विकेट लिये । तेज गेंदबाजों ईशांत शर्मा और उमेश यादव को एक एक विकेट मिला ।

वायुसेना का विमान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट सुरक्षित

श्रीनगर, कश्मीर के बडगाम जिले में आज भारतीय वायु सेना का एक मिग-21 बायसन विमान मैदान में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हालांकि पायलट विमान से सुरक्षित बाहर निकल आया। विमान ने श्रीनगर एयरफील्ड से उड़ान भरी थी और यह नियमित प्रशिक्षण उड़ान थी। रक्षा प्रवक्ता कर्नल एस डी गोस्वामी ने प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया को बताया ‘‘वायुसेना का एक मिग-21 बायसन सुबह दस बज कर करीब 59 मिनट पर बडगाम जिले के सोइबाग इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। लेकिन हादसे में किसी के मारे जाने की कोई खबर नहीं है।’’ पायलट विमान से ‘‘समय पर’’ बाहर निकल आया और सेना के एक हेलीकॉप्टर ने उसे दुर्घटनास्थल से निकाल लिया। प्रवक्ता ने बताया कि दुर्घटना के कारण का पता लगाने के लिए कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के आदेश दिए गए हैं।

कच्चे तेल में और गिरावट, अमेरिकी तेल का भाव 40 डालर प्रति बैरल से नीचे

सिंगापुर, एशियायी बाजारों में कच्चे तेल के दाम आज और भी नीचे चले गये। विश्लेषकों के अनुसार चीन की अर्थव्यवस्था का संकट गहराने की चिंता और आपूर्ति अधिक होने से अमेरिकी तेल का भाव 40 डालर प्रति बैरल से भी नीचे चला गया।
सुबह देश के सौदों में अमेरिका का मानक तेल वेस्ट टेक्सस इंटरमीडियएट :डब्ल्यूटीआई:, अक्तूबर डिलीवरी, 1.04 डालर गिर कर 39.41 डालर प्रति बैरल के भाव बोला जा रहा था। बेंट्र क्रूड, अक्तूबर डिलीवरी 91 सेंट नीचे खिसक कर 44.55 डालर प्रति बैरल पर आ गया।
ईवाई के एशिया प्रशांत तल एवं गैस बाजार के सलाहकार संजीव गुप्ता ने कहा, ‘चीन के विनिर्माण क्षेत्र के ताजा आंकड़े हल्के होने तथा साप्ताहिक रिग काउंट :खुदाई मशीनों की सक्रियता के आंकड़ों: में वृद्धि बने रहने से तेल वायदा बाजार के अनुबंधों की बिकवाली में अचानक अधिक तेजी आ गयी थी।’ चीन दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और वह तेल गैस का सबसे बड़ा आयातक भी है। उसके विनिर्माण क्षेत्र के आंकड़ों में नरमी से बाजार की चिंता बढ गयी है। चीन की मुद्रा यूआन के अवमूल्यन से बाजार पहले ही चिंतित है। इसके साथ ही कच्चे तेल की बाजार में इस समय मांग कमजोर है जबकि साप्ताहिक उत्पादन का स्तर उंचा है।

बयान दर्ज करने के लिए पाकिस्तानी आतंकवादी नावेद सीजेएम के समक्ष पेश

जम्मू, एनआईए ने उधमपुर में हुए आतंकवादी हमले में पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद नावेद याकूब का बयान दर्ज करने के लिए आज उसे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया। इस आतंकवादी हमले में बीएसएफ के दो जवान शहीद हो गए थे और 15 अन्य लोग घायल हो गए थे। अदालत के सूत्रों ने बताया कि सीआरपीसी की धारा 164 :इकबालिया बयान और बयान दर्ज करने के संबंध में: के तहत नावेद का बयान दर्ज करने के लिए उसे आज तड़के उच्च न्यायालय परिसर में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट :सीजेएम: एस गुप्ता के समक्ष पेश किया गया।
उन्होंने बताया कि सीजेएम ने यह सुनिश्चित करने की प्रक्रिया के तहत लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी को दो दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया कि वह स्वेच्छा से बयान दे रहा है। उन्होंने बताया कि बयान दर्ज करने के लिए इस मामले को 26 अगस्त को लिया जाएगा। सूत्रों ने दावा किया कि नावेद ने पांच अगस्त हो हुए आतंकवादी हमले में अपनी संलिप्तता की बात कुबूलने के बाद आज अपना बयान दर्ज करने पर सहमति जताई थी। नावेद को हमले के बाद पकड़ा गया था। उसे आज एनआईए अदालत के समक्ष भी पेश किया गया। इसी अदालत ने उसे 11 अगस्त को 14 दिनों के लिए एजेंसी की हिरासत में भेज दिया था। पाकिस्तान के फैसलाबाद के रहने वाले नावेद को एनआईए की टीम पूर्व में श्रीनगर से लाई थी और उसे उधमपुर जिले में नारसु नाला पर स्थित राजमार्ग पर भी ले जाया गया था जहां आतंकवादी हमला हुआ था।

एनएसए स्तरीय वार्ता रद्द होने के बाद, सेना-अधिकारियों की बातचीत खटाई में

इस्लामाबाद, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकर :एनएसए: स्तरीय वार्ता रद्द होने के बाद भारत और पाकिस्तान के शीर्ष सैन्य अधिकारियों के बीच बातचीत होने की अब संभावना नहीं है। मीडिया की एक रिपोर्ट में यह बात आज कही गई है। भारत के यह कहने के बाद कि वह :भारत: कश्मीरी अलगाववादी नेताओं के साथ मुलाकात की इजाजत नहीं देगा और बातचीत केवल आंतकवाद पर केंद्रित होगी ,पाकिस्तान ने शनिवार को एनएसए स्तरीय वार्ता रद्द कर दी थी।
एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने कहा है कि एजेंडा तथा कश्मीरी हुर्रियत नेताओं को पाकिस्तान के आमंत्रण को लेकर मतभेद होने के कारण एनएसए वार्ता रद्द होने के बाद ‘डायरेक्टर जनरल मिल्रिटी ऑपरेशन्स’’ :डीजीएमओएस: के बीच तथा पाकिस्तान रेंजर्स और सीमा सुरक्षा बल के प्रमुखों के बीच मुलाकात पर अनिश्चितता के बादल मंडरा रहे हैं। अखबार में एक अधिकारी को यह कहते हुए उद्धृत किया गया है कि एनएसए स्तरीय वार्ता रद्द होने के बाद उफा समझौता अब ‘‘विवादास्पद’’ तथा ‘‘अप्रासंगिक’’ हो गया है।
प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनके भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी ने पिछले माह रूसी शहर उफा में अपनी मुलाकात के दौरान डीजीएमओएस और पाकिस्ताान रेंजर्स तथा बीएसएफ के प्रमुखों के बीच बैठकों को लेकर सहमति जताई थी। भारत एनएसए स्तरीय वार्ताओं से पहले दो बैठकें चाहता था लेकिन इस्लामाबाद ने 6 सितंबर को रेंजर्स और बीएसएफ के प्रमुखों के बीच बैठक का प्रस्ताव दिया जिसके बाद डीजीएमओएस बैठक आयोजित होनी थी।

Saturday, 22 August 2015

‘सुल्तान’ के लिए मुझसे संपर्क नहीं किया गया : कृति सेनन

नयी दिल्ली, अभिनेत्री कृति सेनन ने इन खबरांे से इनकार किया है कि फिल्म ‘सुल्तान’ में सलमान खान के साथ उन्हें लिया जा रहा है। उनका कहना है कि इस भूमिका के लिए अब तक उनसे किसी ने संपर्क नहीं किया। मीडिया में इस तरह की खबरें थीं कि ‘‘हीरोपंती’’ की अभिनेत्री ने अली अब्बास जफर-निर्देशित फिल्म साइन की है, जिसकी पेशकश इससे पहले फिल्म नगरी की कई नामचीन अभिनेत्रियों को की गई थी। बीती रात को यहां जिलेट वीनस समारोह से इतर कृति ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘मैंने भी अपने बारे में अखबारों में पढ़ा है कि मैं ‘सुल्तान’ कर रही हूं.. मैं वाकई में नहीं जानती कि ये खबर कहां से आई और किसे इसके बारे में इतना सबकुछ पता है। लिखने से पहले वे इसकी पुष्टि या जांच करने तक की जहमत नहीं उठाते।’’ अभिनेत्री :25: रोहित शेट्टी की आगामी फिल्म ‘‘दिलवाले’’ में दिखेंगी। इस फिल्म में शाहरूख खान, काजोल और वरूण धवन भी हैं।
यह पूछे जाने पर कि बॉलीवुड में दूसरी फिल्म साइन करने में उन्हें इतना वक्त क्यों लगा, कृति ने कहा, ‘‘मैं हमेशा से यह जानती थी कि दूसरी फिल्म को करने में आपको वक्त लगता है। मैं जल्दबाजी में कुछ भी साइन नहीं करना चाहती थी। फिल्म नगरी के अधिकतर सितारों की पहली और दूसरी फिल्म के बीच थोड़ा अंतराल तो रहता ही है।’’ बहरहाल, दिल्ली की कृति ने बॉलीवुड में फिल्में नहीं करने के दौरान दक्षिण फिल्म नगरी में अपना हाथ आजमाया और इस दौरान उन्होंने ‘‘दोचे’’ फिल्म की शूटिंग की।

सलमान खान ने ‘मांझी’ के लिए नवाजुद्दीन को शुभकामनाएं दी

मुंबई, अभिनेता सलमान खान ने फिल्म ‘‘मांझी- द माउंटेन मैन’’ के लिए अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी और इस फिल्म की पूरी टीम को अपनी शुभाकामनाएं दी हैं। नवाजुद्दीन के साथ ‘किक’ और हाल ही में 300 करोड़ रपये के क्लब में शामिल होने वाली ‘बजरंगी भाईजान’ जैसी फिल्मों में काम करने वाले 49 वर्षीय अभिनेता ने कल रिलीज हुयी फिल्म ‘‘मांझी- द माउंटेन मैन’ के लिए उम्मीद जताई है इसे बड़ी सफलता मिलेगी।
सलमान ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘किक और बजरंगी भाईजान के बाद नवाज की फिल्म मांझी रिलीज हो गयी है। नवाजुद्दीन और पूरी टीम को शुभकामनाएं और फिल्म को बड़ी सफलता मिले।’’ फिल्म ‘‘मांझी- द माउंटेन मैन’’ गया जिले के गहलौर गांव के एक गरीब मजदूर दशरथ मांझी के जीवन पर आधारित है जिन्हें माउंटेन मैन के नाम से जाना जाता है। केतन मेहता द्वारा निर्देशित इस फिल्म में नवाजुद्दीन ने दशरथ मांझी की भूमिका निभाई है और अभिनेत्री राधिका आप्टे उनकी पत्नी की भूमिका में हैं।

जन्म आधारित नागरिकता के विरोध में ट्रम्प के साथ आए जिंदल

वाशिंगटन, राष्ट्रपति पद की रिपब्लिकन उम्मीदवारी के दावेदार बॉबी जिंदल ने अमेरिका में अवैध प्रवासियों से जन्मे बच्चों के लिए जन्म आधारित नागरिकता खत्म करने के रिपब्लिकन नेता डोनाल्ड ट्रम्प के आह्वान का समर्थन किया है। अवैध प्रवासियों के नकारात्मक आर्थिक परिणाम बताते हुए रियल-इस्टेट उद्यमी और राष्ट्रपति पद की रिपब्लिकन उम्मीदवारी के अग्रणी दावेदार ट्रम्प ने इससे निपटने के लिए कठोर योजना का खुलासा किया जिसके एक दिन बाद जिंदल ने ट्वीट किया, ‘‘अवैध प्रवासियों के लिए जन्म आधारित नागरिकता खत्म करने की जरूरत है।’’ चुनाव पूर्व की जाने वाली अधिकतर रायशुमारी में जिंदल निचले पायदान पर हैं और सीएनएन के हालिया सर्वेक्षण में उन्हें एक प्रतिशत से भी कम समर्थन मिला। दिलचस्प है कि स्वयं जिंदल का जन्म उनकी गर्भवती मां के भारत से अमेरिका आने के तीन महीनों बाद हुआ था।
बहरहाल, लुईसियाना के 44 वर्षीय गवर्नर ने इस बात को स्पष्ट किया कि उनके माता पिता ‘‘देश में वैध रूप से’’ आए थे। कल ओहियो के कोलंबस में ‘कंजर्वेटिव अमेरिकंस फॉर प्रॉसपरिटी’ की ओर से आयोजित एक समारोह में बोलते हुए जिंदल ने कहा, ‘‘संस्कृति आत्मसात किए बिना आप्रवास हमले के समान है’’ और उन्होंने दावा किया कि अमेरिका का राष्ट्रपति बनने पर वह छह सप्ताह के अंदर मेक्सिको से सटी दक्षिणी सीमा को सुरक्षित कर सकते हैं।

ताज महल का झाड़ फानूस गिरा, एएसआई ने शुरू की जांच

आगरा :उप्र:, विश्व के सात अजूबों में शामिल ताज महल के मुख्य प्रवेश द्वार पर लगा ब्रिटिश काल का 60 किलोग्राम वजन का एक झाड़ फानूस हाल में गिर गया और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण : एएसआई: ने इस संबंध में जांच शुरू कर दी है। सूत्रों ने बताया कि छह फुट उंचे और चार फुट चौड़े इस झाड़ फानूस को लॉर्ड कर्जन ने भेंट किया था और इसे 1905 में ताज महल के शाही द्वार पर लगाया गया था। उन्होंने बताया कि इस संबंध में एएसआई के अधीक्षण पुरातत्वविद भुवन विक्रम के नेतृत्व में जांच शुरू कर दी गई है।
इस संबंध में कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है कि झाड़ फानूस किस वजह से गिरा लेकिन सूत्रों ने बताया कि संभवत: पुराना हो जाने के कारण वह गिर गया। एक टूरिस्ट गाइड वेद गौतम ने कहा, ‘‘सौभाग्य की बात है कि उस समय कोई वहां आस-पास नहीं था, अन्यथा एक बड़ा हादसा हो सकता था।’’ आगरा के एएसआई प्रमुख भुवन विक्रम सिंह ने गत गुरवार को कहा था कि झाड़ फानूस की अच्छी तरह से जांच करने और उसकी मौजूदा स्थिति को देखने के बाद ही उसे फिर से लगाने के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। इस बीच कुछ टूरिस्ट गाइड ने एएसआई अधिकारियों पर ‘‘घोर लापरवाही’’ बरतने का आरोप लगाया है और स्मारक की कलाकृतियांे की देख-रेख में उनकी विशेषज्ञता पर सवाल उठाया है।

उमर की सलाह, एनएसए स्तर की वार्ता इस्लामाबाद में हो 0

श्रीनगर, जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने आज सलाह दी कि पाकिस्तान की ‘‘चाल’’ को विफल करने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार :एनएसए: स्तर की वार्ता का आयोजन स्थल दिल्ली से बदलकर इस्लामाबाद कर दिया जाना चाहिए । उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘‘यहां एक विचार है- चूंकि दोनों देश बात करने को उत्सुक हैं तो भारतीय एनएसए पाकिस्तान की चाल को विफल क्यों नहीं करते और आयोजन स्थल बदलकर इस्लामाबाद क्यों नहीं करते।’’ उमर की सलाह तब आई है जब पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सरताज अजीज की यात्रा के दौरान हुर्रियत नेताओं से उनकी प्रस्तावित मुलाकात के मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान दोनों ही अपने-अपने रूख पर अड़े हैं ।
अजीज का कल दिल्ली आने का कार्यक्रम है ।
भारत ने कहा है कि अजीज की यात्रा के दौरान अलगाववादियों से उनकी मुलाकात रूस के उफा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पाकिस्तानी समकक्ष नवाज शरीफ के बीच हुई सहमति की भावना के अनुरूप नहीं है ।
दोनों नेता आतंकवाद से संबंधित मुद्दों पर चर्चा के लिए दिल्ली में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच बैठक करने पर सहमत हुए थे ।

बिहार का DNA दिखाती है फिल्म ‘मांझी – द माउंटेन मैन’: शत्रुघ्न सिन्हा

पटना : अभिनेता-नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने बिहार में उनकी पैतृक भूमि गया के एक मजदूर दशरथ मांझी की जीवनगाथा पर आधारित फिल्म ‘मांझी – द माउंटेन मैन’ की आज तारीफ की। गया जिले से आने वाले सिन्हा ने ट्वीट किया, गया की मिट्टी के इस सपूत की प्रेरक कहानी पर गर्व है जो मेरे पूर्वजों की भूमि है। सिन्हा ने कहा, बिहारी अस्मिता और बिहार के एक सपूत के वास्तविक, मजबूत डीएनए पर आधारित यह एक डाइनेमिक, मूल और सामयिक फिल्म है। कल रिलीज हुई फिल्म को बिहार में कर मुक्त करने की नीतीश कुमार सहित राज्य सरकार के फैसले की उन्होंने प्रशंसा की। अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्न ने इसके अलावा फिल्म सितारों – नवाजुद्दीन सिद्दीकी और अभिनेत्री राधिका आप्टे की भी सराहना की।
हिंदी और अन्य भाषाओं की 200 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके सिन्हा ने ट्वीट किया, बेहद नैसर्गिक कलाकार नवाजुद्दीन सिद्दीकी इस सदी की खोज हैं और अभिनेत्री राधिका आप्टे तो बहुत प्यारी और तारीफ के काबिल हैं। मैं इस फिल्म की अभूतपूर्व सफलता की कामना करता हूं। ‘मांझी – द माउंटेन मैन’ गया जिले में गेहलौर गांव के एक गरीब मजदूर दशरथ मांझी के जीवन पर आधारित है, जिन्हें ‘माउंटेन मैन’ के तौर पर भी जाना जाता है।
अपनी पत्नी की याद में उन्होंने महज एक हथौड़ा और छेनी से पहाड़ को काटकर अकेले दम सड़क बना डाली। चिकित्सकीय उपचार के अभाव में उनकी पत्नी की मौत हो गई, क्योंकि पहाड़ी इलाका होने के कारण वह उन्हें समय पर उपचार के लिए अस्पताल नहीं ले जाए। किसी और को ऐसी बेबसी की मौत न मरना पड़े इसलिए मांझी ने पहाड़ को चीरकर सड़क बना डाली। सिन्हा ने जीवनी आधारित इस फिल्म के निर्देशक केतन मेहता की भी सराहना की।

पाक NSA से मिलने दिल्‍ली पहुंचे कश्‍मीरी अलगाववादी शब्‍बीर शाह हिरासत में लिए गए

नई दिल्‍ली/श्रीनगर : भारत-पाकिस्तान NSA के बीच 23-24 अगस्त को होने वाली वार्ता के खटाई में पड़ने के आशंका बीच अलगाववादी नेता शब्‍बीर शाह को दिल्‍ली एयरपोर्ट पहुंचने पर हिरासत में ले लिया गया। उनके साथ दो अन्‍य लोग भी हिरासत में लिए गए हैं। शब्‍बीर पाकिस्‍तान के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार से मुलाकात के लिए दिल्‍ली आए थे।
श्रीनगर से दिल्‍ली के लिए रवाना होने से पहले शब्‍बीर शाह ने कहा था, ‘मैं दिल्‍ली के लिए रवाना हो रहा हूं। कल नई दिल्‍ली स्थित पाकिस्‍तान हाउस में रिसेप्‍शन है और वहां हमारी मुलाकात पाकिस्‍तान के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सरताज अजीज से होगी। यह बातचीत काफी अहम है। लिहाजा, बातचीत जारी रहनी चाहिए। भारत और पाकिस्‍तान के बीच कई मुद्दे हैं। भारत सरकार आतंकवाद के मुद्दे पर बातचीत के लिए कह रही है, लेकिन मुख्‍य मुद्दा कश्‍मीर है।’
दरअसल, भारत इस वार्ता से पहले और बाद में हुर्रियत लीडर्स के पाकिस्‍तान NSA की बातचीत को लेकर सख्‍त है। पाकिस्तान हुर्रियत नेताओं से बातचीत और कश्मीर मुद्दे पर चर्चा की जिद पर अड़ा है, जबकि भारत ने साफ़ कर दिया है कि दोनों देशों के बीच सिर्फ़ आतंकवाद के मुद्दे पर बात होगी और किसी तीसरे पक्ष का दख़ल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
हालांकि दोनों देशों में से किसी ने भी अभी वार्ता रद्द करने की बात नहीं की है, लेकिन दोनों एक दूसरे की शर्तों के साथ बात न करने पर अड़े हुए हैं। इस तनातनी के बीच संयुक्त राष्ट्र ने भारत-पाकिस्तान की प्रस्तावित बातचीत को ज़रूरी बताया है। जानकारी आ रही है कि पाकिस्तानी NSA सरताज अजीज़ आज दोपहर इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करेंगे।

अजीज ने प्रेस वार्ता कर भारत पर ही मढ़े सवाल, आतंकवाद मुद्दे से ध्यान भटकाने की कोशिश

भारत-पाकिस्तान वार्ता पर पाकिस्तान के एनएसए सरताज अजीज ने फिर से कश्मीर राग अलापते हुए कहा कि दोनों देशों के लिए कश्मीर बेहद अहम मुद्दा है। अजीज पर भारत पर ही आरोप मढ़ते हुए कहा कि भारत इस बातचीत के लिए शर्तें रख रहा है। अजीज ने हुर्रियत नेताओं से न मिलने पर भी सवाल उठाया, लेकिन दूसरी तरफ ये कहा कि हम उफा में बनी साझा समझ से पीछे नहीं हट रहे हैं। पाकिस्तान ने आतंकवाद पर ध्यान भटकाने की कोशिश करते हुए कहा कि पाकिस्तान में आतंकवाद के पीछे रॉ का हाथ है, और इसके सबूत भी हैं।

दाउद के बारे में मिले अकाट्य सबूत, पाकिस्तान को उसे हमें सौंप देना चाहिए : भाजपा

नयी दिल्ली, दाउद इब्राहिम के पाकिस्तान में होने का दावा करने वाली एक नई रिपोर्ट को ‘‘अकाट्य प्रमाण’’ बताते हुए भाजपा ने आज कहा कि पाकिस्तान को उसे भारत को सौंप देना चाहिए लेकिन कांग्रेस ने इस रिपोर्ट को अधिक तवज्जो नहीं देते हुए कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों ने भी पाकिस्तान के साथ इसी प्रकार के सबूत साझा किए हैं और यह रिपोर्ट जमीनी स्तर पर तथ्यों में कोई बदलाव नहीं करती है। केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता एम वेंकैया नायडू ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘पाकिस्तान ने हमेशा इस बात को नकारा है कि दाउद इब्राहिम वहां रह रहा है। हमने अब दुनिया के सामने सबूत रख दिया है। पाकिस्तान को यह समझना चाहिए और उसे तत्काल भारत को सौंप देना चाहिए।’’ भाजपा के सचिव सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि यह रिपोर्ट पाकिस्तान में दाउद के मौजूद होने का एक ‘‘अकाट्य प्रमाण’’ है और अब वह अधिक समय तक इससे इनकार नहीं कर सकता।
हालांकि कांग्रेस और यहां तक कि भाजपा के सहयोगी दल शिवसेना ने भी इस रिपोर्ट को खास अहमियत नहीं दी और कहा कि इसमें कुछ भी नया नहीं है। इस रिपोर्ट में दाउद की हालिया फोटो के साथ उससे जुड़ी जानकारी है।

Friday, 21 August 2015

शिकागो के जाने माने कला संग्रहालय में भगवान कृष्ण के चित्रों की प्रदर्शनी

वाशिंगटन, शिकागो के एक जाने माने कला संग्रहालय में भगवान कृष्ण के चित्रों की एक श्रृंखला प्रदर्शित की जाएगी जिसमें भारत की इस प्रकार की चित्रकारी का दुर्लभ संग्रह भी शामिल है। मीडिया में जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार आर्ट इंस्टीट्यूट म्युजियम ऑफ शिकागो में 13 सितंबर से तीन जनवरी 2016 तक ‘‘गेट्स ऑफ द लार्ड: द ट्रेडिशन ऑफ कृष्ण पेंटिंग्स’’ शीषर्क के तहत भारत और अमेरिका की 100 से अधिक कलाकृतियां प्रदर्शित की जाएंगी।

संग्रहालय ने कहा, ‘‘गेट्स ऑफ लार्डस के तहत भारत में मुख्य रूप से दो बड़े निजी संग्रहों अमित अंबालाल संग्रह :अहमदाबाद: और तापी संग्रह :सूरत: से उधार लिए गए ऐतिहासिक फोटो, चित्रकारी और पिछवाई का प्रदर्शन किया जाएगा। संग्रहालय ने कहा, ‘‘ उधार ली गई इन दुर्लभ कलाकृतियांे के अलावा अमेरिका में भी कई सार्वजनिक और निजी संग्रहों की महत्वपूर्ण कलाकृतियां इसमें दिखाई जाएगी जिसमें आर्ट इंस्टीट्यूट का अपना स्थायी संग्रह भी शामिल है। इस प्रदर्शनी के जरिए पुष्टिमार्ग कला और परंपरा की समृद्ध संभावित कहानी को पेश किया जाएगा।’’ ऐसा बताया जा रहा है कि यह पश्चिमी भारत के हिंदू संप्रदाय पुष्टिमार्ग की अनूठी दृश्यात्मक संस्कृति दिखाने वाली पहली अमेरिकी प्रदर्शनी होगी। इस प्रदर्शनी के मुख्य प्रायोजक उद्योगपति मुकेश अंबानी, उनकी पत्नी नीता और रिलायंस फाउंडेशन है।

अमित शाह 40 मिनट तक लिफ्ट में फंसे रहे, सीआरपीएफ ने निकाला



पटना, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और तीन वरिष्ठ नेता करीब 40 मिनट तक यहां राजकीय गेस्ट हाउस में लिफ्ट में फंसे रहे जिसके कारण सुरक्षाकर्मियों और पार्टी के अधिकारियों को काफी परेशानी की स्थिति का सामना करना पड़ा । बाद में सीआरपीएफ ने शाह एवं अन्य लोगों को बाहर निकाला।
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडे ने कहा, ‘‘ कल रात साढे ग्यारह बजे लिफ्ट दो मंजिलों के बीच फंस गई और इसके धातु का दरवाजा जाम हो गया। ऐसी आपात स्थिति से निपटने में कोई लिफ्ट परिचालक या व्यक्ति सक्षम नहीं था। लिफ्ट में फंसे लोगों का मोबाइल भी रेंज से बाहर प्रदर्शित हो रहा था।’’ यह घटना तब घटी जब शाह, राज्य के प्रभारी भूपेन्द्र यादव, सचिव नागेन्द्रजी और महासचिव सुदान सिंह एवं सुरक्षाकर्मियों के साथ राजकीय गेस्ट हाउस में भूतल से पहली मंजिल पर जा रहे थे ।
शाह समेत लिफ्ट में फंसे लोगों को सीआरपीएफ कर्मियों ने बचाया जो वहां जेड प्लस सुरक्षा कवर के हिस्से के तौर पर वहां मौजूद थे। इन्हें स्टील के दरवाजे को तोड़कर शाह एवं उसमें फंसे अन्य नेताओं को बाहर निकालना पड़ा।

उपहार अग्निकांड : कानूनी राय लेगी दिल्ली सरकार



नयी दिल्ली, दिल्ली सरकार ने आज कहा कि वह उपहार अग्निकांड पीड़ितों के परिजन की 60 करोड़ की उस राशि को ठुकराने की मांग पर कानूनी राय लेगी जिसे उच्चतम न्यायालय ने अंसल बंधुओं को जुर्माने के तौर पर भरने का आदेश दिया है। एसोसिएशन ऑफ विक्टिम्स ऑफ उपहार ट्रेजेडी :एवीयूटी: के तीन सदस्यों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से आज यहां मुलाकात की जिसके बाद दिल्ली सरकार ने यह कहा। एवीयूटी के सदस्यों ने 30 मिनट तक चली इस बैठक में मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि वह 60 करोड़ रपए की उस राशि को ठुकरा दें जिसे अंसल बंधुओं द्वारा दिल्ली सरकार को दिए जाने का आदेश दिया गया है और मानव निर्मित त्रासदी के मामलों में सजा देने के लिए कड़े कानून बनाए।
दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘ दिल्ली सरकार 60 करोड़ की उस राशि को ठुकराने की उनकी मांग पर कानूनी राय लेगी जो अंसल बंधुओं द्वारा दिल्ली सरकार को देने का आदेश दिया गया है। उसने मानव निर्मित आपदाओं के मामले में कड़ी सजा देने के लिए कानून बनाने के उपहार अग्निकांड पीड़ितों के परिजन का सुझाव सैद्धांतिक रूप से स्वीकार कर लिया है।’’ सूत्रों के अनुसार सदस्यों ने यह भी मांग की कि सरकार को अंसल बंधुओं के धन का इस्तेमाल करके उपहार त्रासदी पीड़ितों के लिए ट्रॉमा सेंटर का निर्माण नहीं करवाना चाहिए।

दूसरे, चौथे शनिवार को बैंकों में रहेगा अवकाश


नयी दिल्ली, बैंक के लाखों कर्मचारियों के लिये अच्छी खबर है। सरकार ने बैंक कर्मचारियों की माह के दूसरे और चौथे शनिवार को अवकाश घोषित करने की लंबे समय से चली आ रही मांग को स्वीकार कर लिया है। ऑल इंडिया बैंक इंप्लायज एसोसिएशन :एआईबीईए: के महासचिव सी एच वेंकटचलम ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘शनिवार को अवकाश के बारे में अधिसूचना आ गयी है।’’ फिलहाल सार्वजनिक क्षेत्र एवं निजी क्षेत्र के बैंकों में शनिवार को आधे दिन काम होता है। उन्होंने कहा, ‘‘यह स्वागत योग्य कदम है। इससे कर्मचारियों के लिये बड़ी राहत होगी और मुझे उम्मीद है कि इससे कर्मचारियों की उत्पादकता सुधरेगी।’’ अगर महीने में पांच शनिवार होंगे, तो बैंक केवल दूसरे और चौथे शनिवार को ही बंद होंगे।

सरकारी बैंकों का एनपीए कम करने के हर संभव प्रयास : जेटली


नयी दिल्ली, वित्त मंत्री अरण जेटली ने आने वाली तिमाहियों में फंसे कर्ज यानी एनपीए की स्थिति में सुधार की उम्मीद जताते हुए आज कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में एनपीए का मौजूदा स्तर अस्वीकार्य है और इसे ठीक करने के हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा ‘‘एनपीए इस समय जिस स्तर पर है वह अस्वीकार्य है। एनपीए के इस स्तर पर पहुंचने की वजह आंशिक तौर पर असावधानी बरतने, आंशिक तौर पर निष्क्रियता और अर्थव्यवस्था के कुछ क्षेत्रांे में उपजी चुनौतियों का होना है। अर्थव्यवस्था के इन क्षेत्रों में बैंकों के उंचे एनपीए से यह स्पष्ट है।’’ जेटली आज यहां इंडियन बैंक के स्थापना दिवस के मौके पर 109 नई शाखाओं और 109 एकमुश्त नोट स्वीकार :बीएनए: मशीनों के उद्घाटन के मौके पर बोल रहे थे।
सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का मार्च तिमाही के अंत तक सकल एनपीए 5.20 प्रतिशत रहा जो कि उससे पहले दिसंबर में 5.63 प्रतिशत था। उन्होंने कहा ‘‘वित्तीय स्थिति ठीक करने और एनपीए घटाने के लिए हर तरह के प्रयास किए जा रहे हैं। बैंक प्रशासन कोशिश कर रहा है, सरकार और पूंजी डालने की कोशिश कर रही है, सरकारी हिस्सेदारी के विनिवेश के जरिए और धन जुटाने की कोशिश हो रही है। फिर ज्यादा सावधानी और विभिन्न दबाव वाले क्षेत्रों की मुश्किलों को दूर करने करने का प्रयास हो रहा है।’’ उन्होंने कहा ‘‘मुझे संदेह नहीं है अगली कुछ तिमाहियों में बैंक ऐसी चुनौतियांे से निपटने में कामयाब होंगे।’’ वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार की अगले चार साल में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में पूंजी डालने की योजना से इन बैंकों में एनपीए की समस्या से निपटने की वित्तीय ताकत आ जाएगी।

दिल्ली में नजरबंद हो सकते हैं अलगाववादी, पाकिस्तान ने कहा- भारत की नहीं सुनेंगे


नई दिल्ली. भारत-पाकिस्तान के NSA की 23-24 अगस्‍त को तय मीटिंग खतरे में लग रही है। दोनों देशों के बीच तल्खी भी बढ़ गई। अलगाववादी नेताओं से मुलाकात पर पाकिस्‍तान अड़ा है। उसने कहा है, ‘वह भारत की नहीं सुनेगा। डिप्लोमैसी में उसे शर्त नहीं चाहिए। वह भारत से ‘डिक्टेशन’ नहीं लेगा। तय शेड्यूल के मुताबिक अलगाववादियों से उसकी रविवार को ही मुलाकात होगी।’ वहीं भारत ने उसे साफ कह दिया है कि अगर पाकिस्तान के NSA सरताज अजीज और दिल्ली स्थित हाई कमिश्नर अब्दुल बासित कश्मीरी अलगाववादियों से मिले तो ठीक नहीं होगा।
कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि अजीज-बासित से मुलाकात करना चाह रहे कश्मीरी अलगाववादियों को दिल्ली आने पर नजरबंद किया जा सकता है या कश्मीर में ही उन्हें रोका जा सकता है। वहीं, NSA लेवल की बातचीत से पहले पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ ने आर्मी चीफ राहिल शरीफ और ISI चीफ रिजवान अख्तर के साथ मीटिंग की है। इससे बातचीत में पाकिस्तानी आर्मी और आईएसआई का एजेंडा हावी रहने के आसार हैं।
NSA बातचीत को लेकर भारत सरकार अपने पत्ते नहीं खोल रही है जबकि टॉप लेवल पर इस बारे में स्ट्रेटजी तैयार की जा चुकी है। भारत सरकार ‘लास्ट मिनट डेवलपमेंट्स’ को लेकर खास तौर पर सतर्क है। माना जा रहा है कि अगर हुर्रियत लीडर्स पाक NSA से मुलाकात पर अड़े रहे तो उन्हें या तो कश्मीर में ही रोक लिया जाएगा या फिर दिल्ली पहुंचने पर हिरासत में ले लिया जाएगा। बातचीत को लेकर केवल विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ब्रीफ कर रहे हैं। होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह और NSA अजीत डोभाल अब तक कुछ नहीं बोले हैं।
भारत ने पाकिस्तान को मैसेज भिजवाया है कि उसके NSA सरताज अजीज जब बातचीत के लिए भारत आएं तो उन्हें हुर्रियत नेताओं से मुलाकात नहीं करनी चाहिए। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने शुक्रवार को अपने टवीट्स में इसकी जानकारी दी। भारत ने कहा है कि अजीज का हुर्रियत नेताओं से मिलना ठीक नहीं होगा।
पाकिस्तानी हाई कमीशन ने 23 अगस्त की शाम हुर्रियत नेताओं को बातचीत के लिए बुलाया था। भारत इससे खफा है। भारत ने कहा है कि हुर्रियत नेताओं से पाकिस्तानी NSA की बातचीत ऊफा (रूस) में दोनों देशों के पीएम के बीच हुए समझौते के खिलाफ है। इस मीटिंग में तय हुआ था कि दोनों देश अपने आतंकवाद और दूसरे मसलों को आपसी बातचीत से सुलझाएंगे।
 इस्लामाबाद में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता काजी खलीलुल्लाह ने कहा है कि पाकिस्तान, कश्मीरी लोगों से बातचीत जारी रखेगा। उन्होंने कहा कि यह पुरानी परंपरा है कि पाकिस्तानी हाईकमीशन अलगाववादी नेताओं को बुलाता रहा है। इनसे राय-मशविरा होता रहा है। अलगाववादी नेता शब्बीर शाह ने भी कहा कि वह अपने डेलीगेशन के साथ शनिवार को दिल्ली पहुंचेंगे और रविवार को सरताज अजीज से मुलाकात करेंगे।

अण्णा हजारे को Z+ सुरक्षा, दाभोलकर जैसा हाल करने की मिली थी धमकी 0

मुंबई: सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे को धमकी भरा दूसरा पत्र मिलने के बाद उन्‍हें जेड प्‍लस श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। महाराष्‍ट्र सरकार ने खुद यह जानकारी दी। अन्‍ना को मिली धमकी के बाद इस संदर्भ में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। दरअसल, हजारे के सहयोगी दत्ता आवरी ने पारनेर से बताया, पत्र में लातूर के रहने वाले महादेव पांचाल का नाम लिखा हुआ है और इसे उस्मानाबाद से भेजा गया है। दस दिनों पहले भी हजारे को धमकी भरा पत्र मिला था, जिसमें कहा गया था कि अगर उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से खुद को अलग नहीं किया गया तो ‘उन्हें पीटा जाएगा।’पारनेर के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि भादंसं की धारा 506 के तहत अहमदनगर जिले के पारनेर थाने में मामला दर्ज कराया गया था।

अधिकारी ने कहा, पत्र पर 7 अगस्त की तारीख लिखी हुई थी और यह मुख्यत: अंग्रेजी में लिखा हुआ है। पत्र में हजारे को चेतावनी दी गई कि उनका हश्र भी नरेन्द्र दाभोलकर की तरह होगा जिनकी दो वर्ष पहले पुणे में हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने कहा कि पत्र में गांधीवादी नेता से अपने गांव रालेगण सिद्धि में ही रहने को कहा गया है।

Thursday, 20 August 2015

भारत में आस्ट्रेलिया के शिक्षा दूत होंगे गिलक्रिस्ट

मेलबर्न, भारत के साथ शिक्षा संबंधों को मजबूत बनाने की कवायद में आस्ट्रेलिया ने आज एडम गिलक्रिस्ट को भारत में देश का पहला शिक्षा दूत नियुक्त किया । आस्ट्रेलिया के शिक्षा और प्रशिक्षण मंत्री क्रिस्टोफर पाइने ने 24 अगस्त को भारत आस्ट्रेलिया शिक्षा परिषद की तीसरी बैठक से पहले यह जानकारी दी । उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि एडम गिलक्रिस्ट पहले आस्ट्रेलिया भारत शिक्षा दूत होंगे । वह दोनों देशों में द्विपक्षीय शिक्षा संबंध मजबूत बनाने की दिशा में कदम उठायेंगे ।’’

भारत की पाकिस्तान को चेतावनी, हुर्रियत नेताओं से मिले तो खैर नहीं

दिल्ली में एनएसए स्तर की बैठक से पहले पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेताओं को बातचीत के लिए बुलाया है। भारत ने पड़ोसी देश के इस रुख पर नाराजगी जताई है। साथ ही चेतावनी दी, अगर पाक एनएसए सरताज अजीज और उच्चायुक्त अब्दुल बासित अलगाववादी नेताओं से मिलते हैं, तो हम करारा जवाब देंगे।
भारत में पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने मंगलवार शाम हुर्रियत नेताओं को फोन कर सरताज अजीज को दिए जाने वाले भोज में आने का न्योता दिया। अजीज 23 अगस्त की शाम को हुर्रियत नेताओं से मुलाकात करेंगे। हुर्रियत नेताओं में सैयद अली शाह गिलानी और मीरवाइज उमर फारुख शामिल हैं। हुर्रियत प्रवक्ता अयाज अकबर ने कहा, भारत के साथ बातचीत फिर से शुरू करने से पहले पाकिस्तान अलगाववादियों का रुख जानना चाहता है। बुधवार को अलगाववादी नेताओं ने मुहर लगाई कि वे पाक एंबेसी जाएंगे और अजीज और बासित से मुलाकात करेंगे।
एनएसए स्तर की बैठक से पहले बदलते पाक के इस रुख पर भारतीय अफसर नजर बनाए हुए हैं। न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, सरकारी सूत्रों का कहना है कि पाकिस्तान द्वारा अलगाववादियों को न्योता देना हमें उकसाने की एक और कोशिश है। भारत इसे स्वीकार नहीं करेगा। पाक सरकार के अंदर कुछ लोग हैं जो भारत-पाक बातचीत को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं।
एनएसए स्तर की बैठक से पहले ही पाकिस्तान ने कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र (यूएन) सुरक्षा परिषद के सामने उठा दिया है। यूएन में पाक प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने कहा- यूएन में फलस्तीन और मिडिल ईस्ट की ही तरह जम्मू-कश्मीर का मसला सुलझाने की काबिलियत है।

उपहार मामले में सीबीआई की अपील उच्चतम न्यायालय में खारिज

नयी दिल्ली, उच्चतम न्यायालय ने आज सीबीआई की उस अपील को खारिज कर दिया, जिसमें एजंेसी ने अतिरिक्त 15 मिनट सुनवाई करने का अनुरोध किया था ताकि वर्ष 1997 के उपहार अग्निकांड मामले में सजा के परिमाण के बारे में छूट गए बिंदुओं पर दलीलें पेश की जा सकें। अपनी अपील में सीबीआई ने कहा था कि इस मामले में दोषी ठहराए गए और रियल एस्टेट के दिग्गज सुशील और गोपाल अंसल 30-30 करोड़ रूपए का जुर्माना भरकर तीन महीने में ही आगे की कैद से बच निकलने में कामयाब रहे।
न्यायाधीश ए आर दवे की अध्यक्षता वाली तीन न्यायाधीशों की पीठ ने कहा, ‘‘यह उचित नहीं होगा। हम पहले ही आदेश जारी कर चुके हैं।’’ इस मामले में सीबीआई का पक्ष रखने वाले वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने मामले से जुड़े कुछ बिंदुओं पर और दलीलें रखने के लिए 15 मिनट का समय मांगा था। साल्वे ने कहा, ‘‘मैं वर्ष 2000 से जनहित की खातिर इस मामले की वकालत कर रहा हूं। कृपया हमें आज दोपहर तीन बजकर 45 मिनट से चार बजे तक 15 मिनट का समय दें। यदि अदालत सहमत न हो पाए तो हमें भले ही बाहर कर दिया जाए।’’

अदालत ने कोयला घोटाला मामले में विजय दर्डा और पांच अन्य की जमानत मंजूर की

नयी दिल्ली, कोयला घोटाला मामले में एक विशेष अदालत ने राज्यसभा सांसद विजय दर्डा, उनके पुत्र देवेंद्र दर्डा और पूर्व कोयला सचिव एच सी गुप्ता समेत पांच अन्य लोगों को आज जमानत दे दी। यह मामला छत्तीसगढ में फतेहपुर :पूर्वी: कोयला ब्लॉक के आवंटन में कथित अनियमितताओं से संबंधित है। सीबीआई की विशेष अदालत के न्यायाधीश भरत पाराशर ने जिन अन्य आरोपियों की जमानत मंजूर की है, उनमें दो वरिष्ठ लोक सेवक.. के एस क्रोफा एवं के सी सामरिया तथा कारोबारी मनोज कुमार जायसवाल शामिल हैं।
अदालत ने आरोपियों को एक-एक लाख रपए के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की जमानत पर यह राहत दी है। अदालत ने आरोपी फर्म मेसर्स जेएलडी यवतमाल एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड को फतेहपुर :पूर्वी: कोयला ब्लॉक आवंटन के मामले में आरोपियों को समन जारी किए थे जिसके मद्देनजर आरोपी अदालत में पेश हुए थे। सीबीआई ने अदालत में कहा कि वह सभी आरोपियों को आज दस्तावेजों की प्रति दे देगी जिसके बाद अदालत ने मामले की आगे की सुनवाई के लिए 10 सितंबर की तारीख तय की। अदालत ने भारतीय दंड संहिता की धाराओं 120 बी : आपराधिक षड़यंत्र: 409 : :लोकसेवक द्वारा विश्वास का आपराधिक उल्लंघन: के साथ पढा जाए : और 420 :धोखाधड़ी: तथा भ्रष्टाचार रोकथाम कानून के प्रासंगिक प्रावधानों के तहत समन जारी किए थे।

अब आपकी भावनाओं के मुताबिक एप भेजेगा आपका संवाद

app
लंदन : अगर आप अपनी नाराज प्रेमिका को मनाने के लिए कॉल करना या मैसेज भेजना नहीं चाहते और उसे और नाराज किए बिना अपनी भावनाएं व्यक्त करना चाहते हैं तो किसी गीत का छोटा सा क्लिप भेजना ज्यादा असरदार हो सकता है। एक समाचारपत्र के अनुसार एक नया मोबाइल ऐप एमएसटीवाय (माय सांग टू यू) इसी तरह की सुविधा प्रदान करता है, और अपने उपयोगकर्ताओं को फोटो, लिखित संदेश के साथ नए-नए लोकप्रिय गानों की 18 सेकेंड की क्लिप भेजने की सुविधा देता है।
ब्रिटिश कंपनी ने इस ऐप को 155 देशों में जारी किया है, जिसमें उपयोगकर्ताओं के लिए 2,000 गानों की क्लिप मुहैया कराई गई है। यह ऐप कम्प्यूटर के एल्गोरिदम की बजाय मानवीय भावनाओं के अनुरूप किसी गीत के सबसे भावुक 30 सेकेंड की क्लिप को लिया गया है। ऐप में गानों की क्लिप को उनके मूड या जॉनर जैसे जश्न, उमंग, उत्साह, पॉप हिट्स के अनुसार विभिन्न वर्गो में विभाजित किया गया है।
उपभोक्ता 2,000 गानों की क्लिप को उनकी कैटेगरी के अनुसार अलग-अलग लिस्ट में से ब्राउज कर सकते हैं। कंपनी के संस्थापक ग्रांट बोवी के अनुसार, फिल्म से लेकर टेलीविजन और विज्ञापन तक लोग संगीत को हमेशा प्रभावशाली माध्यम के रूप में प्रयोग करते रहे हैं। आप अपनी उसी भावना को गीतों के जरिए मैसेज में क्यों नहीं भेज सकते? यह बेहद स्वाभाविक है।
बाजार में पहले से इस तरह के ऐप मौजूद हैं, जैसे ‘ला-ला’ और ‘रिदम’। हालांकि ‘ला-ला’ जहां पूरा गाना भेजता है वहीं ‘रिदम’ अपने उपभोक्ताओं से कई गतिविधियों के लिए कीमत वसूलता है। लेकिन एमएसटीवाय एप तस्वीरों और लिखित संदेशों को गाने के क्लिप के साथ भेजने की सुविधा देता है। एमएसटीवाय ने यूनिवर्सल, सोनी और वॉर्नर ब्रदर्स के साथ करार किया है, जिससे इसे 2.2 करोड़ गानों के इस्तेमाल का कानूनी अधिकार मिल जाएगा। एमएसटीवाय ऐप को एप्पल म्यूजिक के साथ भी इंटीग्रेट किया गया है। उपभोक्ता जिस गाने को चुनते हैं उस पर क्लिक कर उसे एप्पल म्यूजिक एलबम में शामिल कर सकते हैं, जहां वे उस गाने को स्ट्रीम कर सकते हैं या खरीद सकते हैं।

असम में बाढ़ के हालात, 7 जिलों के लाखों लोग प्रभावित, फसलें भी बर्बाद

गुवाहाटी : भारी बारिश के चलते असम के कई इलाकों में बाढ़ के हालात बने हुए है। असम के करीब 7 जिलों के 2 लाख से ज़्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए है। असम में बाढ़ से प्रभावित धेमाजी, कोकराझाड़, लखीमपुर, चिरांग, बंगाईगांव, तिनसुकिया और डिब्रुगढ़ जिले में बहने वाली सभी नदियां अपने खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। बाढ़ से सबसे ज़्यादा नुकसान असम के कोकराझाड़ में हुआ है। कोकराझाड़ के करीब 87 गांव बाढ़ के पानी में डूबे हुए है और वहां से लोगों को निकालकर राहत कैंपों तक लाया जा रहा है। स्थानीय प्रशासन के मुताबिक करीब 12 हज़ार एकड़ से ज़्यादा फसल बाढ़ से बर्बाद हो गई है।

दरअसल, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक लक्ष्मण सिंह राठौड़ ने भी बीते दिनों जानकारी देते हुए बताया था कि हिमालय की तराई के क्षेत्रों में बहुत भारी बारिश होगी। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा बुलाई गई उच्चस्तरीय बैठक के बाद उन्‍होंने कहा, बारिश के कारण कोसी, गंडक, घाघरा सहित गंगा और ब्रह्मपुत्र की सहायक नदियों के जलस्तर में वृद्धि होगी। इससे पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, असम और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो सकती है।

60 मिनट ही नजरबंदी: गिलानी को छोड़ कश्‍मीर में सभी अलगाववादी नेता रिहा


 0
श्रीनगर, पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार सरताज अजीज के साथ दिल्ली में प्रस्तावित बैठक से पहले गुरुवार को नजरबंद किए गए कश्मीर के अलगाववादी नेताओं को छोड़ दिया गया है। जानकारी के अनुसार, श्रीनगर में में अलगाववादी नेताओं की नजरबंदी खत्‍म कर दी गई है। वहीं, हिरासत में लिए गए जेकेएलएफ के नेता यासीन मलिक को भी छोड़ दिया गया है। इन अलगाववादी नेताओं पर कार्रवाई के बाद तकरीबन एक घंटे में उन्‍हें छोड़ने का फैसला कर लिया गया। गौर हो कि जम्‍मू कश्‍मीर के पूर्व मुख्‍यमंत्री उमर अब्‍दुल्‍ला ने आज अलगाववादी नेताओं की नजरबंदी को लेकर सवाल उठाए थे।
गौर हो कि पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार सरताज अजीज के साथ दिल्ली में प्रस्तावित बैठक से पहले कश्मीर के अलगाववादी नेताओं को आज नजरबंद कर दिया गया। इन नेताओं में मीरवाइज उमर फारूक और अब्बास अंसारी भी शामिल थे। पुलिस और हुर्रियत के सूत्रों ने बताया कि हुर्रियत के कट्टरपंथी नेता सैयद अली शाह गिलानी पहले से ही नजरबंद हैं। ऐसी ही रोक उदारवादी धड़े के प्रमुख मीरवाइज उमर फारूक और अब्बास अंसारी पर लगाई गई। उमर फारूक निगीन में और अंसारी नवाकदल में रहते हैं।
पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार सरताज अजीज के साथ दिल्ली में प्रस्तावित बैठक से पहले कश्मीर के अलगाववादी नेताओं को आज नजरबंद कर दिया गया था। इन नेताओं में मीरवाइज उमर फारूक और अब्बास अंसारी शामिल थे। पुलिस और हुर्रियत के सूत्रों ने बताया कि हुर्रियत के कट्टरपंथी नेता सैयद अली शाह गिलानी पहले से ही नजरबंद थे। ऐसी ही रोक उदारवादी धड़े के प्रमुख मीरवाइज उमर फारूक और अब्बास अंसारी पर लगाई गई। उमर फारूक निगीन में और अंसारी नवाकदल में रहते हैं। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि हुर्रियत के कट्टरपंथी गुट के प्रवक्ता अयाज अकबर को एचएमटी इलाके में नजरबंद कर दिया गया और गिलानी के हैदरपोरा स्थित आवास के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। उन्होंने कहा कि अलगाववादी गुट की दूसरी पंक्ति के नेताओं को हिरासत में लेने के लिए छापेमारी जारी है।
पाकिस्तान के दिल्ली स्थित उच्चायोग ने 24 अगस्त को अजीज के साथ बैठक के लिए गिलानी को आमंत्रित किया था। अजीज भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के साथ वार्ता करने के लिए तब राष्ट्रीय राजधानी में मौजूद होंगे। नयी दिल्ली में पाकिस्तानी अधिकारी के आगमन पर 23 अगस्त को उच्चायोग द्वारा दी जा रही दावत में नरमपंथी अलगाववादी नेताओं को भी बुलाया गया है। पिछले साल अगस्त में इस्लामाबाद में बैठक से पहले पाकिस्तान के राजनयिक द्वारा अलगाववादी नेताओं को चर्चा के लिए आमंत्रित किए जाने के बाद भारत ने पाकिस्तान के साथ विदेश सचिव स्तर की वार्ताएं रद्द कर दी थीं।

राजस्थान स्थानीय निकाय चुनाव: भाजपा को बढ़त

जयपुर, राजस्थान के 31 जिलों के 129 निकायों में भाजपा को बढ़त मिली है। राज्य में निर्वाचन आयोग के प्रवक्ता ने बताया कि मतगणना शांतिपूर्वक चल रही है और आज शाम तक सभी परिणाम आ जायेंगे। ताजा परिणाम आने तक भाजपा को 62, कांग्रेस 26, अन्य 17 सीटों पर आगे चल रहे थे! कुल मिलाकर स्थानीय निकाय चुनाव में वसुंधरा राजे का जलवा रहा!  गौरतलब है कि निकाय मतगणना में 3,351 वार्ड पाषर्दों के चुनाव में 10,582 उम्मीदवार खड़े थे। निवार्चित पाषर्द 21 अगस्त को चेयरमेन का और 22 अगस्त को उपाध्यक्ष का चुनाव करेंगे।

अर्थव्यवस्था ने रफ्तार पकड़ी है, ग्रामीण क्षेत्रों में मांग बढ़ सकती है: राजन

मुंबई, आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने आज कहा कि अर्थव्यवस्था ने रफ्तार पकड़ी है और उम्मीद जताई कि यदि मानसून में सुधार होता है तो ग्रामीण क्षेत्रों में मांग बढ़ेगी। राजन ने यहां दूसरे एसबीआई बैंकिंग एंड इकनामिक कान्क्लेव में कहा ‘‘हमारा मानना है कि अर्थव्यवस्था ने रफ्तार पकड़ी है।’’ मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस द्वारा भारत की वृद्धि का अनुमान घटाने के दो बाद आज राजन ने अपनी टिप्पणी में कहा कि बुवाई अच्छी है और उम्मीद है कि बारिश कम नहीं होगी।
उन्होंने कहा ‘‘उम्मीद है कि बुवाई बहुत अच्छी हुई है और यदि बारिश कम नहीं होती और दरअसल बढ़ ही जाती है तो ग्रामीण क्षेत्रों में मांग और तेजी से लौट सकती है।’’ राजन ने कहा कि यह आज जहां हैं उसके मुकाबले यह अर्थव्यवस्था की बहुत बड़ा बोनस होगा। मूडीज ने बारिश कम होने की आशंका और सुधार प्रक्रिया में गति न होने से 2015 के लिए वृद्धि का अनुमान घटा सात प्रतिशत कर दिया जो इससे पहले 7.5 प्रतिशत थी। सरकार ने चालू वित्त वर्ष में वृद्धि 7.8 प्रतिशत से अधिक रहने और धीरे-धीरे इसे बढ़ाकर दहाई अंक के करीब लाने का लक्ष्य रखा है। आरबीआई ने भी जून की मौद्रिक नीति की समीक्षा में वृद्धि का अनुमान घटाकर 7.6 प्रतिशत कर दिया और अगस्त महीने की मौद्रिक समीक्षा में इसे बरकरार रखा। मूडीज के बयान के बाद वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा था कि सरकार सुधार प्रक्रिया आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है।

Wednesday, 12 August 2015

कांग्रेस के हंगामे के बीच सुषमा स्वराज की ललितगेट मुद्दे पर लोकसभा में सफाई

नई दिल्ली। ललित मोदी प्रकरण और व्यापमं घोटाले पर कांग्रेस सदस्यों के हंगामे एवं नारेबाजी के कारण राज्यसभा की कार्यवाही आज भी बाधित हुयी और बैठक एक बार के स्थगन के बाद दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी। सुबह उपसभापति पीजे कुरियन ने आवश्यक दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाने के बाद कहा कि उन्हें नियम 267 के तहत कार्य स्थगन के लिए कुल तीन नोटिस मिले हैं। उन्होंने कहा कि पहला नोटिस सपा के नरेश अग्रवाल का है जिन्होंने सांसदों के खिलाफ टिप्पणी पर चर्चा को लेकर नोटिस दिया है। उन्होंने कहा कि यह मुद्दा कल ही सदन में उठाया जा चुका है। इसलिए इस नोटिस को अस्वीकार किया जाता है।
इसके बाद कुरियन ने कहा कि दूसरा नोटिस माकपा सदस्य टीके रंगराजन का है जो व्यापमं घोटाले और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से जुड़े मुद्दों में जवाबदेही तय करने के लिए प्रधानमंत्री के जवाब पर है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर वह कई बार नोटिस को स्वीकार कर चुके हैं। लेकिन अनुमति देने के बाद भी इस विषय पर चर्चा शुरू नहीं की जा रही है। इसलिए इस नोटिस को भी अस्वीकार किया जाता है। कुरियन द्वारा इस नोटिस को अस्वीकार किए जाने पर माकपा एवं कांग्रेस आदि दलों के सदस्यों ने आपत्ति की। कांग्रेस के आनंद शर्मा ने कहा कि नियमों के अनुसार एक ही विषय पर अलग अलग दिन दिए गए नोटिस को नया माना जाएगा। उन्होंने कहा कि विपक्ष विभिन्न मामलों में जवाबदेही तय किए जाने की मांग कर रह रहा है। उन्होंने कहा कि इस विषय पर प्रधानमंत्री को प्रतिक्रिया व्यक्त करनी चाहिए। विभिन्न सदस्यों की आपत्ति के बीच कुरियन ने कहा कि अगर रंगराजन चर्चा के लिए प्रस्ताव पेश करते हैं तो वह नोटिस को स्वीकार करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने रंगराजन से सवाल किया कि क्या वह इसके लिए तैयार हैं। इस पर रंगराजन ने कहा कि चर्चा के लिए प्रधानमंत्री को यहां होना जरूरी है। कुरियन ने कहा कि प्रस्ताव सशर्त नहीं हो सकता।
संसदीय कार्य राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि आसन ने बार बार इस विषय पर चर्चा के लिए नोटिस को स्वीकार किया है। लेकिन विपक्ष चर्चा करना ही नहीं चाहता। नकवी ने कहा कि विपक्ष चर्चा शुरू करे, सरकार उसके हर सवाल का जवाब देगी। जदयू के शरद यादव ने कहा कि संसद में हंगामे के बारे में पूंजीपतियों की टिप्पणी से यह आरोप स्पष्ट हो गया है कि यह सरकार पूंजीपतियों और थैलीशाहों की है। उन्होंने इस बात पर आपत्ति की थी कि बाहर बैठे लोग संसद चले या नहीं, इस बारे में कैसे टिप्पणी कर सकते हैं। उनकी बात पर भाजपा के कई सदस्यों ने आपत्ति जतायी। सदन के नेता और अरूण जेटली ने यादव की बात का प्रतिवाद करते हुए कहा कि क्या आम आदमी चाहता है कि संसद नहीं चले। जिसने आपको वोट दिया, क्या वह चाहता है कि संसद नहीं चले।
इसी दौरान कांग्रेस के कई सदस्य सरकार एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आसन के समक्ष आ गए। उधर जदयू, माकपा एवं बसपा के सदस्य अपने स्थानों पर खड़े देखे गए। कुरियन ने हंगामा कर रहे सदस्यों से शांत होने की अपील करते हुए कहा कि यह सदस्य जिस तरह से आचरण कर रहे हैं, वह दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि हंगामा कर रहे सदस्यों को सदबुद्धि आएगी। इसके बाद उन्होंने 11 बजकर करीब 20 मिनट पर बैठक 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

Tuesday, 11 August 2015

GST बिल पेश होते ही रास में हंगामा, कल तक के लिए स्थगित



नई दिल्ली। सरकार ने आज राज्यसभा में गुड्स एंड सर्विसेज यानी जीएसटी बिल पेश कर दिया। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सदन में बिल रखा। बिल पेश करते ही सदन में जोरदार हंगामा मच गया। कांग्रेस की तरफ से नारेबाजी शुरू हो गई और सांसद वेल तक पहुंच गए। इसको देखते हुए उप सभापति ने राज्यसभा कल तक के लिए स्थगित  कर दी। जेटली ने सदन में कहा कि जीएसटी का विरोध कर कांग्रेस देश का विकास रोक रही है। सुषमा तो बहाना है, दरअसल कांग्रेस जीएसटी बिल में रोड़ा डालना चाहती है। उधर, विरोध करते हुए कांग्रेस सांसद जेटली तक भी पहुंच गए और पोस्टर लहराने लगे। इस पर उप सभापति ने सदन कल तक के लिए स्थगित कर दिया।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सदन में बिल रखा। बिल पेश करते ही सदन में जोरदार हंगामा मच गया। इससे पहले राज्यसभा में कांग्रेस ने इसे लेकर सरकार पर नए आरोप लगाए। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि सरकार ने बिजनेस एडवाइजरी कमेटी की मीटिंग में इसका जिक्र  नहीं किया था। इसमें प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया। ये विपक्ष को बदनाम करने की साजिश है। जीएसटी बिल लोकसभा में पहले ही पारित हो चुका है और पिछले सत्र में इसे राज्यसभा की सेलेक्ट कमेटी को भेज दिया गया था। बता दें राज्यसभा में एनडीए सरकार के पास बहुमत नहीं होने की वजह से ये बिल पास होने में दिक्कतें आ रही हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने आधार कार्ड का मामला संविधान पीठ के पास भेजा

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने सभी नागरिकों को आधार कार्ड मुहैया कराने की केंद्र की महत्वाकांक्षी योजना को चुनौती देने वाली याचिकाओं को मंगलवार को एक संविधान पीठ के पास भेज दिया। इसके साथ ही वृहद पीठ इस बात पर भी निर्णय लेगी कि निजता का अधिकार मौलिक अधिकार है या नहीं। न्यायमूर्ति जे चेलमेश्वर, न्यायमूर्ति एसए बोबडे और न्यायमूर्ति सी नागप्पन की पीठ ने केंद्र की याचिका मंजूर करते हुए विभिन्न प्रश्न तैयार किए, जिन पर वृहद संविधान पीठ को फैसला करना है। इनमें यह प्रश्न भी शामिल है कि निजता का अधिकार एक मौलिक अधिकार है या नहीं। उच्चतम न्यायालाय ने वृहद पीठ के गठन के लिए यह मामला प्रधान न्यायाधीश एचएल दत्तू के पास भेजते हुए कहा कि यदि हां, तो निजता के अधिकार की रुपरेखा क्या होगी। उच्चतम न्यायालय इस मामले में अपराह्न दो बजे सुनवाई करेगा कि सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आधार कार्ड वैकल्पिक रहेगा या नहीं और क्या इसका जारी पंजीकरण रोका जाएगा या नहीं।